Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबई

CIDCO : नैना क्षेत्र में मेट्रो चलाने की तैयारी, सिडको ने योजना पर शुरू किया काम, पनवेल ओर उलवे के नागरिकों को होगा मेट्रो का लाभ

Advertisement

मुंबई। (CIDCO)नवी मुंबई एयरपोर्ट प्रभाव अधिसूचित क्षेत्र (नैना) में सिड़को द्वारा मेट्रो चलाने की तैयारी है। इसके लिए सिड़को द्वारा सड़कों और अन्य मार्गों के लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार किया जा रहा है, जिसे नवी मुंबई हवाईअड्डा परियोजना से सटे तीसरे मुंबई के रूप में विकसित किया जा रहा है, इसके लिए सिड़को ने एक विस्तृत योजना तैयार करना शुरू कर दिया है। उसी क्षेत्र में एक आंतरिक मेट्रो परियोजना के निर्माण किया जाने वाला है । इसकी तैयारी के लिए सिडको के तरफ से एक टीम तैयार की गई है यह टीम जांच करेगा कि क्या नेरुल-उरण लाइन पर तारघर रेलवे स्टेशन से अंबिवली तक 19 किमी और कलंबोली-चिखले-कोन से नवी मुंबई हवाई अड्डे तक एक नई मेट्रो लाइन विकसित की जा सकती है। उसी टीम के माध्यम से इस बात पर रिपोर्ट प्रस्तुत की जाएगी कि क्या भविष्य में इसी क्षेत्र में यात्रा के लिया किस तरह से मार्ग तैयार किया जा सकता है।

Advertisement

सिडको ने नवी मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा क्षेत्र के तहत तीसरी मुंबई बनाने की महत्वाकांक्षी परियोजना शुरू की है। इस परियोजना का क्षेत्रफल 561 वर्ग किलोमीटर है और इस नए शहर का विकास 11 चरणों में किया जाएगा। मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा बनाए गए शिवडी-न्हावाशेवा सी ब्रिज का काम पूरा हो चुका है और जल्द ही इस ब्रिज को खोल दिया जाएगा। मेट्रोपॉलिटन अथॉरिटी ने इस समुद्री पुल के आधार पर गांवों से एक और छोटा शहर बनाने की परियोजना की योजना बनाई है और इसके लिए राज्य सरकार की मंजूरी की उम्मीद है। सिडको की नैना परियोजना के दूसरे चरण में 152 में से 80 गांवों को बाहर करने का निर्णय पहले ही लिया जा चुका है और मुंबई क्षेत्र प्राधिकरण को इन गांवों को विकसित करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।राज्य सरकार के विभिन्न प्राधिकरणों द्वारा हवाई अड्डे के आसपास चरणबद्ध तरीके से छोटे शहर बसाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इसलिए, भविष्य में इस पूरे चरण को बहुत महत्व मिलेगा और यह भी अनुमान लगाया गया है कि पुरानी नवी मुंबई की तुलना में यहां की आबादी कई गुना बढ़ जाएगी।पहले चरण में तारघर रेलवे स्टेशन से अंबिवली तक 19 किलोमीटर की मेट्रो परियोजना का अध्ययन किया जाएगा। इस बात का भी अध्ययन किया जाएगा कि क्या इस प्रोजेक्ट को नवी मुंबई एयरपोर्ट प्रोजेक्ट से जोड़ा जा सकता है। इसके अलावा, यह अध्ययन किया जाएगा कि क्या कलंबोली-चिखले-कोन (एनएच 4 राजमार्ग) मार्ग को सिडको के तलोजा एमआईडीसी से खंडेश्वर (मेट्रो लाइन 2), पेंडार से एमआईडीसी तलोजा (मेट्रो लाइन 3) मेट्रो लाइनों से जोड़ा जा सकता है। इसके अलावा, क्या कलंबोली-चिखले-कोन मार्ग को नियोजित कल्याण-तलोजा मेट्रो मार्ग से जोड़कर एक गोलाकार मेट्रो डिजाइन करना संभव होगा | कलंबोली-चिखले-कोन मेट्रो लाइन को ‘नैना’ परियोजना से जोड़ने की योजना है। नैना परियोजना में नियोजित इन दोनों मेट्रो परियोजनाओं को इस तरह से योजनाबद्ध किया जा रहा है कि वे हवाई अड्डे के अधिसूचित क्षेत्र के नए शहर को नवी मुंबई महानगर पालिका क्षेत्र और पनवेल महानगरपालिका क्षेत्र से जोड़ सकें। इस संबंध में विभिन्न योजनाओं और कुछ अन्य परिवहन विकल्पों पर भी विचार किया जा सकता है।

पनवेल ओर उलवे के नागरिकों को मेट्रो लाइनों का होगा लाभ

नैना की इस परिवहन रिपोर्ट में नैना क्षेत्र के साथ-साथ पनवेल शहर और न्यू पनवेल कॉलोनियों के यात्रियों को मेट्रो से यात्रा करने का अवसर मिलेगा। यह मेट्रो लाइन न्यू पनवेल, पनवेल बस स्टैंड, पनवेल इंडस्ट्रियल एस्टेट, पनवेल में करनाला स्पोर्ट्स अकादमी से नवी मुंबई हवाई अड्डे और उल्वे तक चलेगी।

Uddhav Thackeray at the comedy fair: अवली, लवली और जनता ‘कावली’; हास्य मेले में उद्धव ठाकरे का संवाद

Advertisement

Related posts

पानी से भरे खदान में दो युवक डूबे

Deepak dubey

BMC budget 2024-25: आमदनी अठन्नी खर्च रुपैया, घाटे के बजट में दिखा चुनावी तड़का, मुंबई मनपा ने 10.5 प्रतिशत बढ़ाकर 59954.75 करोड़ का बजट किया पेश

Deepak dubey

ड्राइवर के साथ पत्नी का अवैध संबंध ,बिल्डर पति की कराई हत्या

Deepak dubey

Leave a Comment