Joindia
कल्याणक्राइमठाणेदेश-दुनियामुंबईसिटी

Religion change: जाकिर नाईक का जहरीला कलमा, नादान युवकों के लिए बना जहरीला, मुंब्रा का आरोपी नाईक का कलमा से करता था ब्रेन वॉश, गिरफ्तार आरोपियों के बयान में खुलासा

Advertisement

मुंबई। ऑनलाइन गेम(online games

Advertisement
)के जरिए धर्म परिवर्तन(Religion change)कराने वाले मुंब्रा का रहने वाले मुख्य आरोपी को लेकर अहम खुलासा हुआ है। आरोपी जाकिर नाईक का जहरीला कलमा गेम हारने वाले युवाओ को दिखाकर ब्रेन वॉश कराता था। इस कलमा के माध्यम से नाईक के भड़काऊ भाषण के बाद उसके बहकावे में आकर नादान युवक उसके शिकार बन जाते थे। इसके बदले आरोपी को मोटी कमाई होने की जानकारी सूत्रों से मिली है।  ऐसे में अब एसटीएफ नाईक से कोई कनेक्शन तो नहीं इसको लेकर भी जांच शुरू कर दी है।
बतादें कि गाजियाबाद में 30 मई को पहली बार ऑनलाइन गेम के जरिए हारने वाले युवाओ का धर्म परिवर्तन का खुलासा हुआ था। एक डॉक्टर ने गाजियाबाद के कवि नगर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी कि उनकी बेटियों ने अचानक मुस्लिम रीति-रिवाजों का पालन करना शुरू कर दिया। इस मामले में अब्दुल रहमान नाम के एक आरोपी को गाजियाबाद से गिरफ्तार किया गया था उस पर चार नाबालिग हिंदू बच्चों का धर्म परिवर्तन कराने का आरोप है। लड़कियों को ऑनलाइन गेम के जरिए जाल में फंसाया जाता था। मैच हारने के बाद उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर होना पड़ा। इन लड़कियों को मुस्लिम धर्म के प्रभाव को बढ़ाने के लिए जाकिर नाइक के वीडियो भी दिखाए गए। गिरफ्तार आरोपियों ने  पुलिस को दिए बयान में बताया कि ठाणे जिले के मुंब्रा में रहने वाले मुख्य आरोपी शाहनवाज मकसूद खान के माध्यम से हिन्दू लडके और लड़कियों को गेम के माध्यम से निशाना बनाते थे  मुख्य आरोपी शाहनवाज ही फर्जी यूजर आईडी बनाकर दिया था। जिसके आधार पर यूपी एसटीएफ की टीम मुंब्रा शाहनवाज के घर पर छापेमारी की थी। लेकिन वह परिवार के साथ फरार था।जाकिर नाइक का भड़काऊ भाषण दिखाकर करते थे ब्रेन वाश 
सूत्रों के अनुसार मुख्य आरोपी शाहनवाज उसके साथ जुड़े उसके सहयोगियों और गिरफ्तार आरोपियों को जाकिर नाइक का भड़काऊ भाषण देता था। यह विडिओ इस खेल में हारने वाले हिंदू बच्चों को दिखाते थे। इसके बाद जाकिर नाइक के भड़काऊ बयान को सुनकर हिन्दू बच्चो  उस कलमा को पढ़ने के लिए कहकर इस्लाम कबूल करने के लिए मजबूर किया जाता था। उन्हें कलमा पढ़ने पर कभी भी गेम  नहीं हारने का झांसा दिया जाता था ।

CRIME : महिला की हत्या कर आरी से किए शरीर के 120 टुकड़े, रोज लगा रहा था टुकड़ों का ठिकाना, बचे हुए टुकड़े को ग्राइंडर में पीस दिया

Advertisement

Related posts

Khalistani terrorists, ISI and SIMI Saquib Nachan: ‘खलीफा’ बनकर साकिब नाचन ने युवकों को दी आतंकियों के साथ एकनिष्ट रहने की शपथ

Deepak dubey

कोपरखैरने में रेलवे पुलिस के साथ मारपीट कर लूट ,12 लोगो के तलाश में जुटी पुलिस 

Deepak dubey

2 साल से लंबित नित्यानंद संस्थान के ट्रस्टी चयन की जानकारी देने से ठाणे न्यायालय का इनकार

Deepak dubey

Leave a Comment