Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबईसिटी

Sanjay Raut’s attack: मालेगांव के खटमल को मसलने के लिए तोप की नहीं है जरूरत!, शिवसेना संजय राऊत का जोरदार प्रहार

Advertisement

मुंबई। बालासाहेब ठाकरे (Balasaheb Thackeray)  नाम के अद्भुत व्यक्ति का जन्म हुआ, उस व्यक्ति ने शिवसेना नामक महाकाव्य काव्य निर्माण किया। (Sanjay Raut’s attack) अब यहां सामने बैठी है, वह यही शिवसेना है। इस शिवसेना का भगवा विधानसभा पर फहरेगा और उद्धव ठाकरे को हमें फिर से महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाना है। यह बोलते हुए शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) पक्ष के सांसद व नेता संजय राऊत ने आगे कहा कि हमें मालेगाव के खटमल को मसलने के लिए तो की जरूरत नहीं है।

Advertisement

मालेगांव में महाराजा सयाजीराव गायकवाड महाविद्यालय का मैदान कल शाम की ऐतिहासिक सभा का गवाह बन गया। मैदान के साथ ही शहर भगवामय हो गया था। शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे को सुनने के लिए जनता का जन सैलाब उमड़ पड़ा। पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में सांसद व नेता संजय राऊत ने अपनी भाषण में कहा कि आज सुबह से ही खबर चल रही है की मालेगांव में तोप चलेगी। मैं यह कहना चाहता हूं कि मालेगांव के खटमल को मारने के लिए तोप की जरूरत नहीं है। फिर हम यहां क्यों एकत्रित हुए हैं? वो इसलिए कि हमारी शिवसेना विभाजित नहीं, बल्कि एकजुट है। इसीलिए मालेगांव में उद्धव ठाकरे की जनसभा हो रही है।

उद्धव ठाकरे की ईमानदारी पर संदेह नहीं करते

शिवसेना नेता व सांसद संजय राऊत ने कहा कि चिते की चाल, बाज की नजर, बाजीराव की तलवार और उद्धव ठाकरे की ईमानदारी पर संदेह नहीं करते। इस महाराष्ट्र में किसानों की, मजदूरों की समस्याएं हैं। प्याज को उचित मूल्य नहीं मिल रहा है। संजय राऊत ने कहा कि प्याज सड़कों पर भेंके जा रहे हैं लेकिन हमें उस सुहास कांदे को सड़क पर लाकर फेंकना है। उस गुलाबराव पाटील को सड़क पर फेंकना है। जिन्होंने गद्दारी की उन्हें उसी खोके के नीचे मसलना है, ये न भूलें।

शिवसेना कहीं भी टूटी-फूटी नहीं है

शिवसेना नेता व सांसद संजय राऊत ने कहा कि शिवसेना कहीं भी टूटी नहीं, फूटी नहीं, झुकी नहीं। चुनाव आयोग ने हमारा नाम छीन लिया हो, चुनाव चिन्ह छीन लिया हो लेकिन बालासाहेब ठाकरे द्वारा निर्माण की गई शिवसेना महाराष्ट्र में अडिग खड़ी है। उद्धव ठाकरे हमें और पूरे महाराष्ट्र को अपना विचार देने यहां आए हैं। संजय राऊत ने यह भी कहा कि महाराष्ट्र को पता होना चाहिए कि शिवसेना एकजुट है।

Modi govt. 2.0 budget: चुनाव पर नजर, बजट पर दिखा असर, जानिए क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा

MUMBAI : फ्रांसीसी और भारतीय नौसेना ने दिखाया अपने युद्ध कौशल का जलवा

Advertisement

Related posts

पीएम स्वनिधि से समृद्धि योजना के तहत विशेष शिविर को मिला प्रतिसाद 

Deepak dubey

RTI: हो रही वसूली, लेकिन नहीं भर रही तिजोरी, आरटीआई ने खोली ठाणे ट्रैफिक पुलिस और टोइंग वाहन के मिलीभगत की पोल

Deepak dubey

पाकिस्तान को भी पता है शिवसेना किसकी है -उद्धव ठाकरे

Deepak dubey

Leave a Comment