Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबईसिटी

APMC: हरी सब्जियों की कीमतों में उछाल,दाल के भी बिगड़े बजट 

Advertisement

 मुंबई।(APMC)पिछले एक महीने से सब्जियों की कीमत में भारी बढ़ोतरी हुई है।थोक बाजार में कीमतें बढ़ने से खुदरा बाजार में सब्जियों की कीमत 80 से 100 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई हैं। जिसमें टमाटर, मटर, गोभी, फूल गोभी, बैंगन, हरी मिर्च, भिंडी, करेला, ग्वार आदि सब्जियों का समावेश है। इसका सबसे बड़ा कारण है आवक कम होना। इसके साथ ही प्याज की कीमतों मे भी बढ़ोतरी हुई है |

बता दें कि पिछले साल गणेश उत्सव के बाद पितृपक्ष के दौरान और नवंबर में सब्जियों के दाम आसमान छूने लगे थे | खासकर हरी सब्जियों के दामों में काफी इजाफा हुआ था | पिछले दो सप्ताह से बाजार में सब्जियों की आवक तेज होने के कारण सब्जियों की कीमतों में गिरावट आई थी  लेकिन हरे मटर का सीजन शुरू होते ही मटर के भाव 200 रुपए किलो तक पहुंच गए। थोक बाजार में भिंडी, लोबिया 40 रुपये किलो, ग्वार 50 रुपये, घेवड़ा 45 रुपये, करेला 40 रुपये, शिमला मिर्च, परवल 40 से 45 रुपये किलो, सहजन 50 से 60 रुपये प्रति किलो, बैगन 40 से 50 रुपये प्रति किलो है।हरी मटर 70 से 80 रुपये प्रति किलो बिक रही है।जबकि टमाटर और हरी मिर्च 70 से 80 रुपये किलो है।ये सभी सब्जियां खुदरा बाजार में 80 से 100 रुपये प्रति किलो तक बिक रही हैं।हरी मिर्च 150 से 160 रुपये प्रति किलो हो गयी है। जबकि पत्ता गोभी, फूलगोभी और लाल कद्दू खाने की थाली में सब्जियों की कमी की भरपाई कर रहा हैं।थोक बाजार में इन तीनों सब्जियों की कीमत 8 से 10 रुपये प्रति किलो है।इसलिए खुदरा बाजार में इन सब्जियों को 40 से 50 रुपये प्रति किलो से बेचा जा रहा है. बदलते दर के हिसाब से ये तीनो सब्जियां भी होटलों के मेन्यू में तेजी से दिखने लगी हैं।हरी मिर्च और टमाटर का प्रयोग कम से कम किया जा रहा है।
 प्याज भी हुए महंगे 
वाशी स्थित एपीएमसी  के आलू प्याज मंडी मे भारी बारिश के कारण गीला प्याज बाजार में आ रहे   है जिसके कारण  गीला प्याज खराब होने के डर से फेंकने की जानकारी व्यापारी मनोहर तोतलानी ने दी | इसलिए बाजार में सबसे अच्छी गुणवत्ता वाला प्याज 12-14 रुपये प्रति किलोग्राम, मध्यम और सामान्य प्याज 5-8 रुपये और भिगोया हुआ प्याज 1-3 रुपये प्रति किलो  पर बेचा गया।
दाल भी छु रहे आसमान 
एक तरफ जहां पर सब्जियों के दाम ने आग लगा रखी है, वहीं दूसरी तरफ दालों के दाम भी लगातार बढ़ रहे हैं। महंगाई के चलते आम जनता परेशान हो रही है और उसका बजट बिगड़ रहा है। अरहर दाल हो उड़द दाल हो या मूंग दाल सभी के दाम आसमान छू रहे हैं। बढ़े दामों का खामियाजा जनता को ही भुगतना पड़ रहा है । सूत्रों की माने तो किसान तो अपना माल बेचकर अपने पैसे लेकर घर चला जाता है, लेकिन कुछ लोग बड़े व्यापारी अगर किसी भी माल को 1 दिन भी अपने गोदाम में दबाए रखते हैं और उसकी शॉर्टेज बताते हैं तो अगले दिन ही उसके भाव चढ़ने लगते हैं। एक खुदरा व्यापारी ने बताया कि इस समय अरहर के दाल 130 से 140 के बीच है। ऐसे ही उड़द दाल 140 से 150 के बीच में मिल रही है। मूंग छिलका दाल और मूंग धुली दाल 100 से लेकर 120 के रेट में खुदरा मार्केट में बिक रही है। चना दाल 70 से 80, राजमा दाल 130 से 140 ,लाल मसूर और काली मसूर दाल 80 से लेकर 100 तक मार्केट में बिक रही है |
Advertisement

Related posts

BMC: मनपा स्कूलों में परीक्षा के दौरान प्रश्न पत्र से छात्र वंचित

Deepak dubey

इस गांव में महिलाओं को 5 दिनों तक रहना पड़ता है निर्वस्त्र , जानिए वजह

Deepak dubey

बच्चन परिवार को बॉम्बे HC से राहत: ‘प्रतीक्षा’ बंगले में किसी भी तरह की तोड़फोड़ पर लगाई रोक, अभिनेता को BMC के सामने पक्ष रखने का समय दिया

cradmin

Leave a Comment