Joindia
देश-दुनियामुंबई

Vikram Lander: विक्रम लैंडर हाइबरनेशन में चला गया; 14 दिन बाद फिर क्या?

Advertisement

Vikram Lander: विक्रम लैंडर से जुड़ा एक अहम अपडेट ISTRO की ओर से आया है। चंद्रमा की सतह पर छलांग लगाने के बाद, विक्रम लैंडर के सोने का समय हो गया है। 4 सितंबर, 2023 को सुबह 8 बजे, ISTRO वैज्ञानिकों ने विक्रम लैंडर के सभी पेलोड को निष्क्रिय कर दिया है। लैंडर से संपर्क बनाए रखने के लिए ही रिसीवर को ऑन रखा जाता है। यह नींद 14 दिन बाद यानी 22 सितम्बर को पूरी होगी। क्या 14 दिन बाद दोबारा चालू होगा लैंडर? इस पर सबका ध्यान गया है।

Advertisement

ISTRO ने उड़ान भरने के बाद लैंडर की तस्वीरें जारी की हैं। इन तस्वीरों के साथ शोध के लिए उपयोगी जानकारी बेंगलुरु स्थित संस्था ISTRAC को प्राप्त हुई है; ये जानकारी विक्रम लैंडर ने सोने से पहले भेजी थी।

ISTRAC के कमांड सेंटर से लैंडर को सुलाने से पहले सभी पेलोड की जाँच की गई, फिर लैंडर को सुप्त करने का आदेश दिया गया। चूंकि रिसीवर चालू है, इसलिए निकट भविष्य में लैंडर से संपर्क बना रहेगा।

ISTRO ने स्पष्ट किया है कि 3 सितंबर को विक्रम लैंडर द्वारा लगाई गई 30-40 सेमी की छलांग भविष्य के सैंपल रिटर्न और मानव मिशन के लिए महत्वपूर्ण होगी। इस छलांग के बाद लैंडर की बैटरी धीरे-धीरे ख़त्म होने लगेगी और लैंडर स्लीप मोड में चला जाएगा। 22 सितंबर को विक्रम के दोबारा जागने की संभावना है।

प्रज्ञान रोवर सूरज की किरणों का इंतजार कर रहा है

विक्रम लैंडर से पहले अलग होने के बाद प्रज्ञान भी एक स्थान पर हाइबरनेशन में चला गया है ताकि दोबारा सूर्य की रोशनी मिलने पर इसे सक्रिय किया जा सके। विक्रम लैंडर रैंप से उतरने के बाद जिस रैंप से प्रज्ञान रोवर चंद्रमा की सतह पर उतरा था उसे भी थोड़े समय के लिए बंद कर दिया गया था।

Indian Navy’s Operation Samudragupt: भारतीय नौसेना का ऑपरेशन समुद्रगुप्त, एनसीबी के साथ मिलकर नशे के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, 15 हजार करोड़ ड्रग्स के साथ पाकिस्तानी गिरफ्तार

Advertisement

Related posts

बीएमसी के पास गणेशोत्सव के लिए 1200आवेदन

Deepak dubey

10 नाबालिगों से यौन शोषण, मदरसे का मौलवी गिरफ्तार

Deepak dubey

CRIME: पत्नी का पर्स चोरी करने के शक में दो यात्रियों का किया अपहरण

Deepak dubey

Leave a Comment