Joindia
कल्याणदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबईसिटी

ड्रोन ट्रेनिग से परेशान कांस्टेबल ने लगाई छलांग, श्रीनगर से ट्रेनिग लेने आया था नवी मुंबई

Advertisement
Advertisement

नवी मुंबई । ड्रोन ट्रेनिग लेने आए श्रीनगर के एक कांस्टेबल ने सानपाड़ा में इमारत से कूदकर आत्महत्या कर ली है। कांस्टेबल श्रीनगर का रहने वाला था । सानपाड़ पुलिस एडीआर दर्ज कर जांच कर रही है।

श्रीनगर का रहने वाला 32 वर्षीय कांस्टेबल आकिब हुसैन खुर्शीद मीर ने सानपाड़ा स्थित एलोरा फिस्टा नाम की इमारत से छलांग लगा दी। कांस्टेबल ने इमारत की छठवीं मंजिल से छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। आकिब मीर नवी मुंबई में ड्रोन पायलट की ट्रेनिंग के लिए आया था। पुलिस ने आगे बताया कि हमने कई लोगों के बयान दर्ज किए, जिसमें लोगों ने बताया कि वो बहुत खोया-खोया रहता था। इस बात की जानकारी नवी मुंबई पुलिस ने उसके लोकल पुलिस स्टेशन को और उनके डीवाई एसपी को दी है, जो अपने स्तर पर भी इस मामले की जांच कर रहे हैं। पुलिस ने इस बात की जानकारी केंद्रीय जांच एजेंसी के साथ भी शेयर की है, ताकि कई एंगल से इस मामले की जांच की जा सके। मीर की शादी हो चुकी है। उसकी पत्नी गर्भवती है। कांस्टेबल श्रीनगर के रैनावारी इलाके का रहने वाला था। एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें श्रीनगर पुलिस से पता चला कि मीर बहुत डिस्टर्ब रहता था और कई बार ड्यूटी पर अनुपस्थित रहता था। इस मामले में पुलिस ने एडीआर दर्ज किया है और मामले की जांच कर रही है।पुलिस ने बताया कि प्राथमिक जांच में पता चला कि मीर यहां ड्रोन पायलट की ट्रेनिंग का टेस्ट देने आया था और यह टेस्ट ठीक नहीं गया। इस वजह से मीर काफी दुखी था, इसलिए उसने ऐसा कदम उठाया। पुलिस ने मीर का शव वाशी म्युनिसिपल अस्पताल में भेजा था, जहां पोस्टमॉर्टम में पता चला कि उसकी मौत ऊंचाई से नीचे गिरने की वजह से हुई है। एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने जिनका बयान दर्ज किया उन लोगों ने बताया कि मीर परीक्षा केंद्र से पेपर फाड़ते हुए बाहर निकला था।

सीसीटीवी फुटेज में दिखा कांस्टेबल

इमारत से सीसीटीवी फुटेज भी मिला है, जिसमें यह साफ दिख रहा है कि वो इमारत से नीचे गिरा, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। जब नवी मुंबई पुलिस ने इस बात की जानकारी श्रीनगर पुलिस को दी, तब पता चला कि उसने यहां आकर परीक्षा देने की किसी भी तरह की सूचना पुलिस विभाग को नहीं दी थी और ना ही उस काम के लिए छुट्टी ली थी। जांच के दौरान यह भी पता चला कि मीर ने नवी मुंबई आने से पहले ट्रेन में ड्रोन को लेकर दो दिनों का ऑनलाइन कोर्स किया और वो ऑफलाइन परीक्षा देने परीक्षा केंद्र पहुंचा था।

Advertisement

Related posts

आइसिस स्लीपर सेल का सदस्य भिवंडी से गिरफ्तार, आईईडी निर्माण में था शामिल, एनआईए की पुणे आइसिस मॉड्यूल मामले में छठवीं गिरफ्तारी

Deepak dubey

CRIME: वाशी रेलवे स्टेशन के पास नाले में मिला युवक का शव, हत्या की आशंका…

Deepak dubey

Environmentally friendly Bappa will be at Ganeshotsav in Mumbai: मुंबई में गणेशोत्सव में होंगे पर्यावरणपूरक बप्पा, पीओपी के मूर्तियों पर सख्त पाबंदी

Deepak dubey

Leave a Comment