Joindia
कल्याणदेश-दुनियाबिजनेसमुंबई

Paytm app: पेटीएम ऐप काम कर रहा है और 29 फरवरी के बाद भी काम करता रहेगा: विजय शेखर शर्मा

Advertisement

मुंबई,:पेटीएम के एसोसिएट बैंक(Paytm Associate Bank) को हाल ही में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) से निर्देश मिले थे। इन निर्देशों के जवाब में पेटीएम के फाउंडर एवं सीईओ विजय शेखर शर्मा(Paytm Founder and CEO Vijay Shekhar Sharma)ने यूजर्स को आश्‍वस्‍त किया है कि पेटीएम ऐप 29 फरवरी के बाद भी चलता रहेगा। विजय शेखर शर्मा ने एक ट्विट में कहा, ‘‘पेटीएम के हर यूजर के लिये उनका पसंदीदा ऐप काम कर रहा है और वह 29 फरवरी के बाद भी वैसे ही काम करता रहेगा। पेटीएम की टीम के हर सदस्‍य के साथ मैं आपके निरंतर सहयोग के लिये आपको सलाम करता हूँ।

Advertisement

अपने ट्वीट में उन्‍होंने यह भी कहा कि, ‘‘हर चुनौती का एक समाधान होता है और हम पूरे अनुपालन के साथ अपने देश की सेवा करने के लिये प्रतिबद्ध हैं। पेमेंट में इनोवेशन और वित्‍तीय सेवाओं में समावेशन के लिये भारत को दुनिया भर में प्रशंसा मिलती रहेगी और ‘पेटीएम करो’ उसका सबसे बड़ा समर्थक होगा।’’

आरबीआई के निर्देशों पर पेटीएम के ग्राहकों को चिंता करने की आवश्‍यकता नहीं है, क्‍योंकि पेटीएम ने कहा है कि ऐप चालू है और काम कर रहा है।

1. पेटीएम और उसकी सेवाएं 29 फरवरी के बाद भी चालू रहेंगी, क्‍योंकि पेटीएम द्वारा दी जा रही ज्‍यादातर सेवाएं सिर्फ असोसिएट बैंक के साथ बही नहीं बल्कि विभिन्‍न बैंकों के साथ भागीदारी में हैं।

2. पेटीएम को सूचित किया गया है कि इससे यूजर्स के बचत खातों, वालेट्स, फास्‍टैग्‍स और एनसीएमसी खातों में जमा राशि प्रभावित नहीं होगी। इनमें वे मौजूदा शेष राशि का इस्‍तेमाल जारी रख सकते हैं।

3. पेटीएम के एसोसिएट बैंक के सम्‍बंध में आरबीआई के हाल के निर्देश इक्विटी, म्‍यूचुअल फंड्स या एनपीएस में पेटीएम मनी लि. (पीएमएल) के परिचालन या ग्राहकों के निवेश को प्रभावित नहीं करेंगे।

4. पेटीएम की दूसरी वित्‍तीय सेवाएं, जैसे कि ऋण वितरण एवं बीमा वितरण किसी भी तरह से उसके एसोसिएट बैंक से जुड़ी नहीं हैं और सामान्‍य रूप से चालू रहेंगी।

5. पेटीएम के ऑफलाइन मर्चेंट पेमेंट नेटवर्क की पेशकशें, जैसे कि पेटीएम क्‍यूआर, पेटीएम साउंडबॉक्‍स, पेटीएम कार्ड मशीन सामान्‍य रूप से जारी रहेंगी और नये ऑफलाइन व्‍यापारियों को शामिल भी किया जा सकता है।

6. पेटीएम ऐप पर मोबाइल रिचार्जेस, सब्‍सक्रिप्‍शंस और बार-बार होने वाले दूसरे भुगतान आसानी से चलते रहेंगे।

Advertisement

Related posts

MSME: एमएसएमई भारत मंच – रुपीबॉस फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ने एक राष्ट्रव्यापी पहल के तहत राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन

Deepak dubey

पंजाब में शिवसेना नेता को गोली मारकर हत्या

Deepak dubey

CRIME: फोन चोरो ने पुलिस पर किया हमला ,चार गिरफ्तार 

Deepak dubey

Leave a Comment