Joindia
क्राइममुंबईराजनीतिरीडर्स चॉइस

Mumbai police: मुंबई का पहला विशेष पुलिस कमिश्नर बने देवेन भारती, गृहमंत्री ने बनाई नई पोस्ट

Advertisement

मुंबई | विवादित आईपीएस अधिकारी देवेन भारती (IPS DEVEN BHARATI) को मुंबई का विशेष पुलिस आयुक्त (special police commissioner) नियुक्त किया गया है। देवेन भारती की नियुक्ति के साथ ही विशेष पुलिस आयुक्त का पद बनाया गया है। सूत्रों की माने तो मुंबई पुलिस पर अपना नियंत्रण रखने के लिए देवेंद्र फडणवीस के करीबी माने जाने वाले देवेन भारती के लिए विशेष पुलिस आयुक्त का पद तैयार किया गया है।
बता दे कि देवेन भारती 1994 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। देवेंद्र फडणवीस जब राज्य के मुख्यमंत्री थे तब उन्हें सबसे ताकतवर आईपीएस अधिकारी कहा जाता है। देवेंद्र फडणवीस के मुख्यमंत्री के कार्यकाल में देवेन भारती ने मुंबई पुलिस में सहायक आयुक्त (कानून और व्यवस्था) और एटीएस प्रमुख के रूप में कार्य किये थे। लेकिन तीन सितंबर 2020 को देवेन भारती का एटीएस प्रमुख के पद से तबादला कर दिया गया था | हालांकि, नई पोस्टिंग नहीं दिए जाने के कारण वह डेढ़ महीने से नौ अक्टूबर तक उसी पद पर कार्यरत थे। अंत में, डेढ़ महीने के बाद उन्हें महाराष्ट्र राज्य सुरक्षा महामण्डल के अपर पुलिस महानिदेशक के रूप में नियुक्त किया गया।

Advertisement

फडणवीस ने दिखाई ताकत

कुछ दिन पहले ही शिंदे-फडणवीस सरकार ने आईपीएस अधिकारियों का तबादला भी किया था। मुंबई पुलिस आयुक्त के पांच संयुक्त पुलिस आयुक्तों को ट्रांसफर करके वहां नए अधिकारियों की नियुक्ति की गई। इसके जरिए देवेंद्र फडणवीस ने दिखा दिया था कि गृह विभाग में उनका एक हाथ नियंत्रण है। फडणवीस ने पिछले कुछ दिनों में लगातार तबादले कर पुलिस बल में खलबली मचा दी थी | आईपीएस अधिकारी सत्यनारायण चौधरी को संयुक्त पुलिस आयुक्त( कानून व्यवस्था ) के रूप में नियुक्त किया गया। साथ ही आईपीएस अधिकारी निशिथ मिश्रा को आर्थिक अपराध शाखा के संयुक्त पुलिस आयुक्त बनाया गया है। प्रशासन विभाग में संयुक्त पुलिस आयुक्त एस. जयकुमार को नियुक्त किया गया है और प्रवीण पडवाल को यातायात विभाग के संयुक्त पुलिस आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया है। साथ ही आईपीएस अधिकारी लखमी गौतम को संयुक्त पुलिस आयुक्त, अपराध शाखा का पद सौंपा गया है। देवेंद्र फडणवीस ने मुंबई के महत्वपूर्ण पदों पर अपनी पसंद के आईपीएस अधिकारियों को नियुक्त कर पुलिस विभाग में अपना नियंत्रण बनाए रखा था। अब देवेन भारती के लिए एक नई पोस्ट बनाकर देवेंद्र फडणवीस ने अकेले ही मुंबई में पूरे पुलिस विभाग और गृह विभाग को नियंत्रित कर लिया है।

मुंबई की सुरक्षा के लिए बताया था खतरा

पूर्व एसीपी राजेंद्र त्रिवेदी ने बताया कि एक व्यक्ति ने वर्ष 2020 में देवेन भारती के कुछ गैंगस्टर से संबंध होने की शिकायत की थी | इस मामले में तत्कालीन पुलिस आयुक्त संजय बर्वे ने जांच कर रिपोर्ट भेजी थी | रिपोर्ट में बताया था कि गैंगेस्टर एजाज लकड़ावाला ,सलीम महाराज और तारिक परवेज से क्राइम ब्रांच द्वारा पूछताछ किए जाने पर कई खुलासे हुए थे | इसके लिए मामले में मुंबई और यहां के नागरिको के सुरक्षा के लिए खतरा बताया था | जिसके बाद देवेन भारती को साइड पोस्टिंग कर दी गई थी |पूर्व एसीपी राजेंद्र त्रिवेदी ने भी देवेन भारती पर कॉल रिकॉर्ड करने का आरोप लगते हुए शिकायत दर्ज कराई थी |

Advertisement

Related posts

शिंदे ने ही रखा था एंटीलिया के बाहर बम: NIA कोर्ट ने जमानत देने से मना किया, कहा- पैरोल का दुरुपयोग कर चुका है पूर्व पुलिसकर्मी

cradmin

आर्यन के ड्रग रैकेट में शामिल होने के सबूत नहीं: क्रूज केस में SIT रिपोर्ट में खुलासा, सवालों के घेरे में NCB डायरेक्टर समीर वानखेड़े

cradmin

MUMBAI UNIVERSTY: परीक्षा मूल्यांकन में शामिल नहीं होने वाले कॉलेजों और प्रोफेसरों की अब करना पड़ेगा कार्रवाई का सामना

Deepak dubey

Leave a Comment