Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियामुंबई

राज्य में कैब कैंसिलेशन शिकायतों में बढ़त, 66% शिकयत सिर्फ ऐप बेस्ड कैब द्वारा राइड कैंसलेशन के, काली पिली टैक्सी को मिल रही है प्रथमिकता

Advertisement

मुंबई।आम नागरिकों को अधिकतर कैब कैंसिलेशन(cab cancellation)के मामलों को झेलना पड़ रहा है। यही वजह है की लोगों द्वारा किए जा रहे शिकायतों में बढ़त हुई है। सर्वे में शामिल ऐप टैक्सी यूजर में से लगभग 84% ने दावा किया कि ड्राइवर अभी भी डेस्टिनेशन और डिजीटल पेमेंट करने पर राइड कैंसल कर देते है। लोकलसर्कल्स द्वारा सोमवार को जारी लेटर नेशनल सर्वे में कहा गया है कि इस साल सितंबर से 16 जनवरी के बीच किए गए लेटेस्ट सर्वे में पता चला है कि पिछले 24 महीनों में स्थिति और खराब हुई है।

काली पिली टैक्सी को मिल रही है प्रथमिकता

राज्य भर में 66% ड्राइवरों ने द्वारा बुकिंग कैंसल करने की भी शिकायत और कई लोगों को ऐसी कैंसिलेशन के कारण कैब बुक करने के लिए लंबे समय तक इंतजार करना पड़ा रहा है।
परिवहन कार्यकर्ताओं ने कहा कि ऐप-बेस्ट कैब बुकिंग स्वीकार नहीं करने के कारण यूजर के एक वर्ग ने यात्रा के लिए काली पीली टैक्सियों पर स्विच कर दिया है। इसके परिणामस्वरूप काली पीली टैक्सियों में सवारियों की संख्या में बढ़त हुई, जिनकी संख्या भी पिछले एक साल में 2,000 से अधिक कैब के साथ बढ़ी है।

सर्वे रिपोर्ट में बताया गया है की “कई शहरों में ऐप बेस्ड टैक्सी सेवाओं के विकल्प की सुविधा निर्विवाद है क्योंकि इसने बाजार में लोगों द्वारा अपने वाहनों को बेहतर विकल्प मानते है। हालाँकि किसी विशेष जगहों पर नहीं जाने के इच्छुक या डिजिटल पेमेंट स्वीकार नहीं करने के वजह से ड्राइवरों साथ ही बढ़ती कीमतों और ड्राइवरों के अजीब व्यवहार के कारण लास्ट मिनट में राइड कैंसल करने की बढ़ती संख्या के कारण यह यूजर के लिए सिरदर्द बन गया है। सर्वे में महाराष्ट्र से 7,962 जवाब देने वाले लोग है। 41% उत्तरदाता टियर 1 से थे, 36% टियर 2 से थे और 23% उत्तरदाता टियर 3, 4 और ग्रामीण जिलों से थे।

Advertisement

Related posts

MUMBAI : फ्लाइट की लैंडिंग से पहले यात्री ने खोला इमरजेंसी गेट , पुलिस ने लिया एक्शन

Deepak dubey

स्थानीय नेताओं से भाजपा का उठा विश्वास, राजस्थान में सात तो छत्तीसगढ़ में उतारे एक मंत्री सहित दो सांसद

Deepak dubey

इस गांव में महिलाओं को 5 दिनों तक रहना पड़ता है निर्वस्त्र , जानिए वजह

Deepak dubey

Leave a Comment