Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियामुंबई

CAIT: जीएसटी परिषद की बैठक में मोटे अनाज उत्पादों पर जीएसटी दर घटाकर 5% की स्वागत योग्य कदम : शंकर ठक्कर

Advertisement

मुंबई। (CAIT) कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के महाराष्ट्र प्रदेश के महामंत्री एवं अखिल भारतीय खाद्य तेल व्यापारी महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष शंकर ठक्कर ने बताया वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद ने मोटे अनाज के आटे से बने भोजन पर जीएसटी को 18% से घटाकर 5% करने का निर्णय लिया है। यह स्वागत योग्य कदम है इससे मोटे अनाज की बिक्री बढ़ेगी और दामों में कमी होगी और ज्यादा से ज्यादा लोग इस के इस्तेमाल के लिए प्रेरित होंगे जो स्वास्थ्य के लिए लाभदाई है।

जीएसटी परिषद की फिटमेंट कमेटी ने पहले पाउडर वाले मोटे अनाज के लिए छूट की सिफारिश की थी, लेकिन इस से तैयार उपज के लिए प्रोत्साहन देने से इनकार कर दिया था। लेकिन भारत वर्ष 2023 को मोटे अनाज यानी श्री अनाज के रूप में मना रहा है। जिससे उत्पादन बढ़े और विश्व भर में इस की खपत को बढ़ावा मिल सके।

सूत्रों के हवाले से बताया कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद ने शनिवार को मोटे अनाज के आटे से बने भोजन पर जीएसटी को मौजूदा 18 प्रतिशत जीएसटी से घटाकर 5 प्रतिशत करने का फैसला किया है।

Modi govt. 2.0 budget: चुनाव पर नजर, बजट पर दिखा असर, जानिए क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा

Advertisement

Related posts

RAILWAY: तत्काल प्रो – प्लस का कमाल, टिकट दलालों का है मकड़जाल, रेलवे प्रशासन हो रही नाकाम, मुंबई से निकाले जा रहे यूपी रिटर्न टिकट

Deepak dubey

गांव लौटने से मना करना पत्नी के लिए जानलेवा ,सनकी पति ने उतारा मौत के घाट

Deepak dubey

महाराष्ट्र में नहीं चलेगा, गुलामी और गद्दारी का वंशवाद, संजय राऊत ने किया जोरदार प्रहार

Deepak dubey

Leave a Comment