Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियामुंबई

Mumbai University: मुंबई यूनिवर्सिटी ने एफवाईबीएससी (आईटी) पाठ्यक्रम में प्रवेशित छात्रों की जानकारी मांगी है, 45% से कम अंक का मामला

Advertisement

मुंबई। (Mumbai University)मुंबई यूनिवर्सिटी ने F.Y.B.Sc.(आईटी) में 45% कम अंक आने के मामले का संज्ञान लेते हुए ने इस पाठ्यक्रम हेतु प्रवेशित विद्यार्थियों की जानकारी आमंत्रित की है। कॉलेज और मुंबई यूनिवर्सिटी की अव्यवस्था से छात्र प्रभावित हुए हैं।

Advertisement

आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने अंधेरी पूर्व में श्री राजस्थानी सेवा संघ द्वारा संचालित एक कॉलेज के 33 छात्रों को परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं देने के बारे में मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री और वाईस चांसलर को शिकायत लिखी थी। इस शिकायत के बाद मुंबई यूनिवर्सिटी द्वारा संबद्ध/प्रशासित सभी विज्ञान महाविद्यालयों के प्राचार्यों/संस्थानों के निदेशकों, निदेशकों, उप परिसरों (ठाणे और रत्नागिरि) को सूचित किया गया है कि, शैक्षणिक वर्ष 2023-24 में, जिन महाविद्यालयों में F.Y.B.Sc. (आईटी ) 45% से कम (ओपन श्रेणी के लिए) और 40% (रिजर्व श्रेणी के लिए) वाले छात्रों को इस पाठ्यक्रम के लिए प्रवेश दिया गया है। ऐसे कॉलेजों को छात्र का आवेदन पत्र 20 दिसंबर, 2023 तक प्रवेश, नामांकन, पात्रता और प्रवासन प्रमाणपत्र विभाग, डॉ. बाबासाहेब अंबेडकर भवन में जमा करना होगा। अनिल गलगली ने आशा व्यक्त की है कि मुंबई यूनिवर्सिटी इस वर्ष सकारात्मक निर्णय लेगा और जितने भी छात्र हैं उन्हें परीक्षा में बैठने की अनुमति देगा।

MUMBAI UNIVERSTY: परीक्षा मूल्यांकन में शामिल नहीं होने वाले कॉलेजों और प्रोफेसरों की अब करना पड़ेगा कार्रवाई का सामना

Advertisement

Related posts

Covaxin dose expired: एक्सपायरी डेट खत्म, कोरोना वैक्सीन का 8 हजार डोज बर्बाद, मनपा के सेंटरों पर बंद होगा टीकाकरण

Deepak dubey

शिवसेना के बाद अब एनसीपी में फूट? 12 नेताओं ने छोड़ी पार्टी, शिंदे गुट के नेता का दावा

Deepak dubey

Shiv Sena leaders are drug smugglers:शिवसेना के बड़े नेता ड्रग्स तस्कर! निजी कार चालकों ने किया पर्दाफाश

Deepak dubey

Leave a Comment