Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियामुंबई

Renovation without approval of revised plan in BMC Headquarters: मनपा मुख्यालय में संशोधित प्लान की मंजूरी के बिना नवीनीकरण

Advertisement

मुंबई। (Renovation without approval of revised plan in BMC Headquarters

Advertisement
) बिल्डिंग में बदलाव करने के दौरान नियम का अनुपालन करने के लिए निर्देश देने वाली मनपा ने इस बार खुद ही नियमों का उल्लंघन कर दिया है। चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है कि मनपा मुख्यालय में संशोधित प्लान की मंजूरी के बिना विभिन्न नवीकरण कार्य किए गए हैं। आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली को उपलब्ध कराई गई जानकारी के अनुसार, ठेकेदार द्वारा केवल ड्राइंग प्रस्तुत की गई है और किसी भी कार्य के लिए कोई संशोधित प्लान प्रस्तुत नहीं किया गया है।

आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने मनपा मुख्यालय में किए गए विभिन्न कार्यों की जानकारी मांगते हुए मनपा से संशोधित प्लान मांगा था। मनपा ने वर्ष 2014 से अब तक मनपा के मुख्यालय में विभिन्न नवीकरण कार्यों के तहत किए गए कार्यों की जानकारी दी। चूंकि नवीकरण कार्यों के लिए कोई संशोधित प्लान उपलब्ध नहीं था, इसलिए मनपा ने एक निजी परियोजना प्रबंधन सलाहकार द्वारा प्रस्तुत चित्र दिए हैं। इसमें स्काईवे इंफ्राप्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड द्वारा विस्तारित भवन के भूतल, प्रथम तल, द्वितीय तल पर किए गए सुधार कार्य के लिए बिल्डिंग प्रपोजल स्पेशल सेल से संशोधित प्लान की मंजूरी नहीं ली गई। भूतल, पहली मंजिल, दूसरी मंजिल, तीसरी मंजिल, चौथी मंजिल और पांचवीं मंजिल पर किए गए सुधार कार्य के लिए संशोधित प्लान को बिल्डिंग प्रपोजल स्पेशल यूनिट द्वारा मंजूरी नहीं ली गई।

अनिल गलगली के मुताबिक यहां किया गया बदलाव भविष्य के लिए खतरनाक है। दिलचस्प बात यह है कि मनपा मुख्यालय में सुधार कार्य के मामले में मनपा आर्किटेक्ट की सहमति से योजना की मंजूरी की आवश्यकता होती है, लेकिन इन कामों में एक निजी आर्किटेक्ट द्वारा तैयार की गई ड्राइंग पर काम किया है। गलगली की मांग है कि अब संशोधित प्लान की मंजूरी मनपा आर्किटेक्ट की सहमति से इमारत प्रस्ताव विशेष कक्ष से लेने का निर्देश दिया जाए। गलगली ने आगे मांग की है कि बृहन्मुंबई मनपा मुख्यालय को एक संशोधित प्लान प्रस्तुत करके बिना अनुमति के किए गए विभिन्न नवीकरण कार्यों के संबंध में संबंधित ठेकेदारों और अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए।

ख़तरे में मुख्यालय!

संशोधित योजना की मंजुरी के बिना नवीनीकरण और अन्य आंतरिक परिवर्तनों में भूतल पर राजनीतिक दल, हेरिटेज हॉल, नकदी विभाग, संरक्षण, सीए कार्यालय शामिल हैं। दूसरी मंजिल पर एक संग्रहालय है। पहली मंजिल पर अध्यक्ष कार्यालय, वाचनालय है। दूसरी मंजिल पर उपमहापौर कार्यालय, विधी कार्यालय, अतिरिक्त आयुक्त कार्यालय, आपातकालीन विभाग हैं। तीसरी मंजिल पर निदेशक, उपायुक्त और सीए का कार्यालय है। सीए फाइनेंस, एमसीए, आईटी, पूछताछ विभाग के कार्यालय चौथी मंजिल पर हैं जबकि विकास योजना का कार्यालय पांचवीं मंजिल पर है।

BMC: 4150 करोड़ की कोविड लागत का विवरण जारी, मनपा आयुक्त ने रिपोर्ट अनिल गलगली को भेजी

Advertisement

Related posts

चेंबूर में राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़,अवैध रूप से बनाए लेबर कैंप

Deepak dubey

हिंदुस्थान में बिगड़ते जा रहा ब्रेस्ट कैंसर,15 में से एक महिला हैं शिकार

Deepak dubey

Sampath J Ram’s suicide साउथ के एक्टर ने किया आत्महत्या

Neha Singh

Leave a Comment