Joindia
कल्याणक्राइमठाणेदेश-दुनियामुंबईसिटी

Hostels in Marine Drive murder case: मरीन ड्राइव हॉस्टल में बलात्कार-हत्या मामला, एक तरफा प्यार मे घटना को दिया अंजाम

joindai
Advertisement

मुंबई। मरीन ड्राइव के हॉस्टल(Hostels in Marine Drive)में 18 वर्षीय छात्रा के साथ बलात्कार कर हत्या मामले में अब नई जानकारी सामने आई है। मरीन ड्राइव पुलिस का दावा है कि यह घटना एकतरफा प्रेम संबंध के कारण हुआ है इस मामले में गुरुवार को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिली है लेकिन डॉक्टरों ने डॉक्टरों ने यौन उत्पीड़न के बारे में कोई विशेष टिप्पणी नहीं की है क्योंकि उसके निजी अंगों में कोई ताजा निशान नहीं मिला है। (Hostels in Marine Drive murder case

Advertisement
)

जानकारी अनुसार आरोपी ओम प्रकाश कनौजिया गर्ल्स हॉस्टल में एक सुरक्षा गार्ड के साथ-साथ कपड़ा धोने का काम करता था। उसपर बलात्कार कर हत्या करने के बाद चरनी रोड के पास रेलवे के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। इस मामले मे जांच कर रहे अधिकारियों ने दोस्तों और परिवार के सदस्यों के बयानों से पता चला है कि आरोपी किसी तरह लड़की से नजदीकी बना रहा था। सूत्रों की माने तो लड़की के साथ एकतरफा प्रेम संबंध था। लड़की के व्हाट्सप्प पर मैसेज भेजता था लेकिन लड़की उसपर किसी भी तरह से रिप्लाई नहीं करती थी। इतना ही नहीं आरोपी को लेकर हॉस्टल की लड़कियों ने खुलासा किया है कि आरोपी उनके साथ भी ओवर फ्रेंडली हो जाता था। और उनसे भी नजदीकी बनाने की कोशिश करता था।घटना के दिन कनौजिया पाइप के जरिए चौथी मंजिल पर लड़की के घर तक चढ़ा था। इसका खुलासा पाइप पर मिले चप्पल से हुआ है। पुलिस ने बताया कि उन्हें डॉक्टरों से पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिल गई है और इसमें कहा गया है कि उसके निजी अंगों में कोई ताजा चोट नहीं है। रिपोर्ट के अनुसार, उसके निजी अंगों में कोई चोट नहीं है और डॉक्टरों ने यौन उत्पीड़न के बारे में कोई विशेष टिप्पणी नहीं की है, जिसके कारण हम किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सकते हैं, क्योंकि उसकी निजी यंग की जांच की रिपोर्ट अभी आनी बाकी है।

सीबीआई जांच की मांग

दूसरी ओर लड़की के पिता ने मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि उन्हे अपनी बेटी की मौत का न्याय चाहिए। हम पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं हैं। उन्होंने कहा है कि हमें एक पुरुष के शरीर का बैक साइड फोटो दिखाया और दावा किया कि यह कनौजिया का है। कोई किसी की पीठ देखकर यह कैसे मान सकता है कि जिसकी लाश रेलवे ट्रैक पर पड़ी है, वह कनौजिया का है?हजारों लोग रेलवे ट्रैक पर मर जाते हैं। हम चाहते हैं कि सीबीआई इस मामले की जांच करें ताकि इस जांच पर पहुंचा जा सके।

Advertisement

Related posts

Hindu Hriday Samrat Balasaheb Health Centre: हिंदुहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे स्वास्थ्य केंद्र की बढ़ गई संख्या,107 से बढ़कर 151 पर पहुंचा

Deepak dubey

केवल चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने से…, जितेंद्र आव्हाड ने केंद्र सरकार की आलोचना की

Deepak dubey

ऑनलाइन साइबर ठगों का गुड लक! केंद्र की योजना का नाम सुनकर पुलिस भी हुई दंग

Deepak dubey

Leave a Comment