Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियामुंबई

मुंबई पारबंदर परियोजना की लागत में 2192 करोड़ की बड़ी वृद्धि, अभी भी 100 फीसदी नहीं हुआ पूरा, ठेकेदार 2 एक्सटेंशन से चूक गए

Advertisement
Advertisement

मुंबई। मुंबई शहर में यातायात की भीड़ को कम करने और नवी मुंबई में क्षेत्र को विकसित करने के लिए निर्माणधीन मुंबई पारबंदर परियोजना की लागत में 2192 करोड़ की उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। एमएमआरडीए प्रशासन ने आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली को सूचित किया है कि 2 बार समय सीमा का उल्लंघन करने वाले ठेकेदारों पर अब तक कोई जुर्माना नहीं लगाया गया है और 100 प्रतिशत काम अभी भी पूरा नहीं हुआ है।

आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने एमएमआरडीए प्रशासन से मुंबई पारबंदर परियोजना के बारे में पूछा था। एमएमआरडीए प्रशासन द्वारा अनिल गलगली को उपलब्ध कराए गए दस्तावेज़ में, परियोजना के पैकेज 1, 2 और 3 की समग्र भौतिक प्रगति – 98.92 प्रतिशत है जबकि पैकेज 4 की भौतिक प्रगति 82 प्रतिशत है। औसत भौतिक प्रगति 98.41 प्रतिशत है। इस परियोजना के दिसंबर 2023 तक पूरा होने की उम्मीद है। अनिल गलगली के मुताबिक समय पर काम पूरा नहीं होने से लागत बढ़ गई है. यह ठेकेदारों की गलती है। बढ़ी हुई रकम चुकाने के बजाय अलग से जुर्माना लगाना ज्यादा उचित होगा।

लागत में 2192 करोड़ की वृद्धि

मुख्य परियोजना जापान अंतर्राष्ट्रीय सहयोग एजेंसी (जेआईसीए) से ऋण सहायता से कार्यान्वित की जा रही है।पैकेज के तहत 1 लार्सन एंड टुब्रो लिमिटेड IHI इंफ्रास्ट्रक्चर सिस्टम्स कंपनी लिमिटेड कंसोर्टियम का अनुबंध मूल्य था 7637.30 करोड़। इसमें अब 999.67 करोड़ की बढ़ोतरी हो गई है। पैकेज-2 के तहत देवू इंजीनियरिंग एंड कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड और टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड जेवी का कॉन्ट्रैक्ट प्राइस 5612.61 करोड़ था, जो अब 936.45 करोड़ बढ़ गया है। पैकेज के तहत 3 के तहत लार्सन एंड टुब्रो लिमिटेड का अनुबंध मूल्य 1013.79 करोड़ था। अब इसमें 232.37 करोड़ का इजाफा हो गया है। पैकेज 4 के तहत स्ट्रोबैग इंफ्रास्ट्रक्चर एंड सेफ्टी सॉल्यूशंस जीएमबीएच जेवी का अनुबंध मूल्य 449 करोड़ था। अब इसमें 23.24 करोड़ का इजाफा हुआ है। मूल खर्च 14712.70 करोड़ था, अब यह बढ़कर 16904.43 करोड़ हो गया है। अब इसमें 2192.73 करोड़ खर्च का कुल इजाफा हुआ है।

ठेकेदार 2 एक्सटेंशन से चूक गए

ठेकेदारों ने 2 एक्सटेंशन मिस कर दिए हैं। काम 22 सितंबर, 2022 को पूरा होने की उम्मीद थी। एमएमआरडीए प्रशासन ने पहला विस्तार 22 सितंबर 2023 तक दिया। इसके बाद 15 दिसंबर 2023 दूसरा विस्तार है। लेकिन अभी तक काम पूरा नहीं हुआ है।

Advertisement

Related posts

CRIME: पिता ने बेटे की गला रेतकर की हत्या

Deepak dubey

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के ठाणे में एक और हत्या से सनसनी!

Deepak dubey

DRDO: कुरुलकर ने महिला जासूस को ब्रह्मोस मिसाइल दिखाने का किया था वादा, एटीएस की जांच में चौंकाने वाला खुलासा

Deepak dubey

Leave a Comment