Joindia
क्राइमबिजनेसमुंबई

590 tenants waiting for Chinese builder, reached China after building a 20-storey building:590 टेनेंट को चाइनीज बिल्डर का इंतजार, 20 मंजिला इमारत बनाकर भाग गया पहुंचा चीन

Advertisement

डेढ़ करोड़ में भी बिके फ्लैट, एफआईआर दर्ज

Advertisement

मुंबई।(590 tenants waiting for Chinese builder, reached China after building a 20-storey building)मुम्बई महानगर में (म्हाडा) के तहत रिडेवलोपमेन्ट परियोजना(Redevelopment project)के तहत सैकड़ो परियोजनाओ पर काम सुरु किया गया है। लेकिन सालो से ये परियोजनाए अधर में ही लटकी है। ऐसी कई परियोजनाओं के निवासियों को नया घर तो मिला नही, बल्कि अपने घर से भी वनवास मिल गया। ऐसा ही एक मामला चुनाभट्टी सप्तर्षि कॉ. कॉपरेटिव हाउसिंग सोसायटी का उजागर हुआ है। जिसमे चाइनीज विकासक फोसन हाईव व कॉर्बन हाईव द्वारा टेनेंट लोगो को फसाकर कर फरार हो गया है। अपने कार्यालय को बंद कर वह सीधे चाईना भाग गया है। नतीजन छह महीने से प्रकल्प का काम बंद है। इस प्रकल्प में टोटल ५९० लोगो को उनके हक की छत नही मिल पा रही है। इतना ही नही उक्त भगोड़े चाइनीज विकासक पर चुनाभट्टी पोलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है।

उक्त भगोड़े विकासक द्वारा भ्रष्टाचार कर विदेशी कालाधन निवेश व एक ही इमारत में एक व्यक्ति के नाम पर १५ फ्लैट बुक हुए है। उस विषय की जांच और अधर में लटके हुए ५९० लोगो को उनकी छत मुहैया कराने हेतु स्थानिक युवा राष्ट्रवादी नेता व मुम्बई सचिव संजीव उपाध्याय ने लिखित प्रार्थना पत्र देकर अपर पोलिस आयुक्त ,पोलिस उपायुक्त, सहाय्यक पोलिस आयुक्त, व वरिष्ठ पोलिस निरीक्षक चुनाभट्टी पोलिस थाने को अवगत कराया है। संजीव उपाध्याय ने टेनेंट को न्याय दिलाने की मांग सरकार से की है। उन्होंने जोइंडिया (joindia) को बताया कि इस परियोजना को पहले दो बिल्डरों ने लिया था। बाद में इसमें चाइनीज कंपनी के शामिल होने के बाद परियोजना को गति मिली। लेकिन पिछले 6 महीने से कम बन्द होने के बाद अब लोगों को पता चल रहा हैं कि वे ठगी के शिकार हो गए हैं। इससे पहले किसी को भनक तक नहीं लगी और बिल्डर लोगों को चुना लगाते हुए फरार हो गया है। वह चीन अपने देश भाग गया है।

उपाध्याय ने बताया कि यहां पर लोगों ने बेहतर लोकेशन को देखते हुए बड़े पैमाने पर इन्वेस्ट भी किया है। डेढ़ करोड़ रुपए में भी यहां पर फ्लैट बेचे गए हैं। लेकिन अब बिल्डर फरार हो गया है। जबकि इमारत का काम भी लगभग 80 प्रतिशत तक पूरा हो चुका है। अब लोगों को यह भी समझ में नहीं आ रहा है कि बिल्डर क्यों फरार हो गया है? लोगों की मांग है कि उनजे न्याय मिले, इसके लिए प्रशासन इस मामले में आगे आये।

OTT प्लेटफार्म पर रिलीज हो रही है बिहार की बेटी संचिता बासु की फिल्म

Advertisement

Related posts

मुंबई मनपा चुनाव की सुगबुगाहट बढ़ी, नए वार्डों का परिसीमन जल्द

dinu

Sanjay Raut’s attack: मालेगांव के खटमल को मसलने के लिए तोप की नहीं है जरूरत!, शिवसेना संजय राऊत का जोरदार प्रहार

Deepak dubey

उत्तरकाशी में हादसे के बाद अलर्ट पर कोंकण रेलवे, सुरंगों की सुरक्षा के लिए लिया बड़ा फैसला!

Deepak dubey

Leave a Comment