Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबईसिटी

Life in danger due to rain: मुंबई में हर साल 22 मिमी ज्यादा बरस रहा है पानी

Advertisement

मुंबई। देश भर में प्रदूषण(pollution)आग को तरह फैले रहा है। विश्व भर में जब भी प्रदूषित शहरों की बात आती है तो, हर बार देश में से कई महानगर  (Metropolitan)  और शहर(City) उस सूची में नजर आते है। ऐसे में देश (Life in danger due to rain) के जलवायु (climate)और मानसून  (monsoon) लाज़िम है। मुंबई जैसे शहर और अगल बगल के क्षेत्रों में मानसून के समय होने वाली बारिश में बढ़त लगभग 5.18 मिमी प्रति वर्ष की दर से हो रही है। अगर मॉनसून के पहले और बिना मौसम वाली बरसात को मिला कर देखे तो लगभग शहर में 22 मिमी ज्यादा बारिश हो रही है ।

Advertisement

मुंबई के मौजूदा जलवायु शहर के दो जरूरी मोड़ को दर्शा रहे हैं। दरसल 1994 के बाद सांताक्रूज में अत्यधिक भारी वर्षा प्रति दिन बढ़त हुई है, जबकि कोलाबा में भी 2005 के बाद पहला बढ़त देखा गया। कोलाबा में 2005 में एक ही दिन में 944 मिमी बारिश प्राप्त करने वाली ऐतिहासिक वर्षा का सामना करना पड़ा था। भारत के मौसम विज्ञान विभाग और बीएमसी द्वारा प्रदान जानकारी दर्शाता है की सांताक्रूज़ शहर में सबसे अधिक बारिश प्राप्त होने वाले क्षेत्र है, वही गोवालिया स्टेशन वर्षा के मामले सबसे कम पाया गया स्थान है।

क्या है वर्तमान जलवायू का असर

शहर में बीन मौसम बारिश देखने को मिल रहा है। जिसका श्रेय हम जलवायू परिवर्तन को भी दे सकते है। मुंबई में जहां गर्मी का पारा 36 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया था ,वही वही अन्य क्षेत्रों में बिजली की गरज-चमक और आंधी के साथ शहर में बारिश भी देखने को मिला। यह बीन मौसम को बारिश से शहर के वायु गुणवत्ता में काफी सुधार नजर आया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार बारिश के पूर्व वायु गुणवत्ता जो की “246” अंक मतलब बहुत बुरा हाल था वही बारिश के बाद “139” अंक के अनुसार स्थिति औसत नजर आई।

Modi govt. 2.0 budget: चुनाव पर नजर, बजट पर दिखा असर, जानिए क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा

MUMBAI : फ्रांसीसी और भारतीय नौसेना ने दिखाया अपने युद्ध कौशल का जलवा

प्रेम, सौंदर्य, प्रकृति और जीवन के विभिन्न विषयों पर अविस्मरणीय कविता संग्रह है आत्मशारदा

Advertisement

Related posts

CRIME: सुरक्षा दल को चकमा देकर कलकत्ता के रास्ते मुंबई आए बांग्लादेशी, कार्रवाई में हकीकत आई सामने

Deepak dubey

HUID कोड बिना हॉलमार्क वाले सोने के आभूषणों की बिक्री पर रोक, आज 1अप्रैल से नियम लागू

Deepak dubey

बाप ने बेटे को चूहा मारने वाली दवा पिलाकर की हत्या

Deepak dubey

Leave a Comment