Joindia
कल्याणदेश-दुनियाबिजनेसमुंबई

पेटीएम ऐप पर निर्देशों का कोई असर नहीं, अन्य बैंकों के साथ साझेदारी के लिए स्वतंत्र है पेटीएम: आरबीआई

Advertisement
Advertisement

मुंबई।भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने स्पष्ट करते हुए बताया है कि पेटीएम ऐप पर पेटीएम पेमेंट बैंक लिमिटेड के खिलाफ जारी किये गये हाल के आदेश का कोई असर नहीं पड़ेगा।

मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए कहा आरबीआई के डिप्टी गवर्नर स्वामीनाथन जे. ने कहा , “स्पष्टीकरण के लिए यह बताना जरूरी है कि कार्रवाई पेटीएम पेमेंट्स बैंक के खिलाफ है, पेटीएम ऐप के खिलाफ नहीं। हमारी कार्रवाई से ऐप पर कोई असर नहीं होगा क्योंकि यह आरबीआई के निर्देशों के दायरे से बाहर है।”

स्वामीनाथन ने कहा कि पेटीएम पेमेंट्स बैंक के साथ साझेदारी करने का बैंकों का निर्णय व्यावसायिक फैसला है, जो पीपीबीएल के साथ सहयोग करने में बैंकों की स्वायत्तता से संबंधित है। डिप्टी गवर्नर ने कहा कि हालिया कार्रवाई विशिष्ट रूप से पेटीएम पेमेंट बैंक को लेकर है और इसका पेटीएम ऐप के कामकाज पर कोई असर नहीं होगा।

 

यह स्पष्टीकरण उन लाखों यूजर्स की चिंताओं को दूर करने वाला है, जो अपनी डिजिटल पेमेंट सेवाओं के लिए पेटीएम पर भरोसा करते हैं।

यह बयान ग्राहकों को अभिनव वित्तीय समाधान मुहैया कराने के लिए मजबूत फ्रेमवर्क को सुनिश्चित करते हुए पेटीएम पेमेंट्स बैंक और अन्य बैंकिंग संस्थानों के बीच संभावित साझेदारी के रास्ते को खोलता है।

पेटीएम के प्रवक्ता ने कहा, “हम अपने यूजर्स और व्यापारी भागीदारों को आश्वस्त करते हैं कि पेटीएम ऐप पूरी तरह से चालू है, और हमारी सेवाएं अप्रभावित हैं। पेटीएम मोबाइल भुगतान के मामले में अग्रणी बना हुआ है, और हम बिना किसी बाधा के सेवाएं देने के लिए बैंकों के साथ अपनी साझेदारी में तेजी ला रहे हैं। हम अपने व्यावसायिक साझेदारों को यह बताना चाहते हैं कि पेटीएम क्यूआर, साउंडबॉक्स और कार्ड मशीन पहले की तरह काम करती रहेंगी। आसान और बिना किसी बाधा के भुगतान समाधान मुहैया कराते हुए पूरे भारत में वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने की हमारी प्रतिबद्धता पहले जैसी ही मजबूत है।”

Advertisement

Related posts

महाराष्ट्र में बड़ा राजनीतिक फैसला: OBC आरक्षण विधेयक विधानसभा में पास, MP पैटर्न पर इलेक्शन करवाने के कई अधिकार राज्य सरकार ने अपने हाथ में लिए

cradmin

उद्धव के परिवार तक पहुंचा ED: साले की कंपनी के 6.5 करोड़ के 11 फ्लैट्स किए सील, प्रवर्तन निदेशालय को मनी लॉन्ड्रिंग का संदेह

cradmin

CRIME: वडाला में महिला की हत्या; धड़ और पैर काट कर थैले में भर दिये गये; फिर उसमें आग लगा दो और…

Deepak dubey

Leave a Comment