Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबईसिटी

Apna dal:अपना दल के महाराष्ट्र प्रभारी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज

Advertisement
Advertisement

नवी मुंबई । अपना दल (एस) महाराष्ट्र के प्रभारी तथा नवी मुंबई के बिल्डर के खिलाफ सीबीडी बेलापुर पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है | (Apna dal)सीबीडी बेलापुर पुलिस ने अपना दल ( एस) महाराष्ट्र के प्रभारी बिल्डर महेंद्र तामेश्वर वर्मा के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। धोखाधड़ी का मामला ज्ञानेश्वर अर्जुन खरपुरिया ने 4 जुलाई को सीबीडी बेलापुर पुलिस स्टेशन में दर्ज कराया है । ज्ञानेश्वर ने पुलिस को दिए बयान मे बताया है कि उन्होंने इस्टेट एजेंट शशिकांत उपाध्याय के माध्यम से महेंद्र तामेश्वर वर्मा के साथ वर्ष 2018 में 750 स्क्वायर मीटर प्लॉट का सौदा 1 करोड़ 95 लाख रुपयों में किया था , महेंद्र वर्मा ने अपने आप को सूरज होम मेकर का प्रोपराइटर बताया था । ज्ञानेश्वर ने जिस जमीन का सौदा उनके साथ किया गया था उसके बताया गया की वह जमीन महेंद्र तामेश्वर वर्मा ने असली जमीन मालिक से लिया है इस जमीन को बेचने के उनके पास अधिकार हैं , खरपुरिया ने बताया कि इसके बाद उन्होंने महेंद्र वर्मा के साथ डील पक्की करते हुए उन्हें 11 लाख की रक्कम एडवांस में दी , इस रकम की अदायगी चेक के माध्यम से की गई थी ।
ज्ञानेश्वर खरपुरिया ने बताया कि रकम देते समय जमीन देने का एक समय तय किया गया था लेकिन तय समय के भीतर उन्हें जब जमीन का कब्जा नहीं मिला तो उन्होंने इस बारे में महेंद्र वर्मा से पूछा कि आखिर उन्हें जमीन का कब्जा कब तक मिलेगा इस पर वे अगले महीने देने की बात कहते रहे और जब कई साल बीत गए और जमीन का कब्जा नहीं मिला और न ही कोई सही जवाब मिला । ज्ञानेश्वर खरपुरिया ने बताया कि जमीन न मिलते देख उन्होंने महेंद्र तामेश्वर वर्मा से अपने पैसे वापस करने के लिए कहा काफी दबाव डालने के बाद महेंद्र तामेश्वर वर्मा सूरज होम मेकर कंपनी के 5 – 5 लाख के दो चेक 5 जून 2022 के दिए थे जिसमें पहला चेक उनका बाउंस हो गया और दूसरा चेक स्टॉप पेमेंट करा दिया । खरपुरिया ने बताया है कि इसके बाद जब महेंद्र वर्मा से संपर्क किया गया तब उन्होंने कहा कि उनका पैसा जल्द वापस कर दिया , यह कहते हुए उन्होंने पूरा एक साल निकाल दिया इसके बाद महेंद्र वर्मा ने फोन उठाना भी बंद कर दिया जिसकी वजह से परेशान होकर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करानी पड़ी । शिकायत दर्ज होने के बाद मामले की जांच पुलिस द्वारा की जा रही है , इस बारे में जांच अधिकारी का कहना है जिसके खिलाफ यह मामला दर्ज किया गया है पुलिस की टीम आरोपी के निवास स्थान पर जा चुकी है लेकिन घर पर ताला लगा है , हालांकि पुलिस मामले की जांच कर रही है ।

Advertisement

Related posts

MUMBAI : असंगठित कर्मचारी को कुली के रूप में पत्र जारी करने में डाक विभाग का असहयोग

Deepak dubey

Green India: ड्रीम सिटी मुंबई को मिली नई पहचान

dinu

पुणे में केमिकल फैक्ट्री में भीषण आग: लगभग पूरी फैक्ट्री जलकर हुई खाक, दमकल की 8 गाड़ियां आग बुझाने पहुंची

cradmin

Leave a Comment