Joindia
इवेंटदेश-दुनियाबिजनेसरीडर्स चॉइस

TATA salt: स्कूली बच्चों ने भी कहा देश हित में ‘हर सवाल उठेगा’! टाटा सॉल्ट देशभर में बच्चों को कर रहा है प्रोत्साहित

Joindia
Advertisement

मुंबई। अपनी ताजा “हर सवाल उठेगा” (harsawaluthega)पहल के तहत टाटा सॉल्ट 300 से ज्यादा स्कूलों में बच्चों को सवाल पूछने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। भारत में ब्रैंडेड आयोडीनयुक्त नमक की श्रेणी में सबसे आगे और मार्केट लीडर टाटा सॉल्ट ने “देश की सेहत, देश का नमक” की थीम को केंद्र में रखते हुए गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रव्यापी कैंपेन ‘देश के लिए #हर सवाल उठेगा’ (Deshkeliye #HarSawalUthega ) आरम्भ किया है। बच्चों का संपूर्ण विकास करने के नजरिए से शुरू किए गए इस कैंपेन का उद्देश्य बच्चों को अपनी तरह का अनोखा प्लेटफॉर्म प्रदान कर उनकी मानसिक क्षमता को विकसित करना है. ताकि वे सार्थक बातचीत को प्रेरित करने वाले और समाज में बदलाव लाने में कारगर सवाल पूछ सकें।

Advertisement

गणतंत्र दिवस (republic day) के उपलक्ष्य में यह अभियान शुरू हो चुका है, और इसका उद्देश्य देश भर के सभी राज्यों के बच्चों को अपने साथ जुड़ने के लिए प्रेरित करना है। इन राज्यों में महाराष्ट्र, पंजाब, हरियाणा, गुजरात, तमिलनाडु, कर्नाटक, उत्तरप्रदेश और राजस्थान समेत अन्य राज्य शामिल है।

मुंबई सिटी के जी.डी. सोमानी मेमोरियल स्कूल में इस अभियान के तहत समारोह का सफलतापूर्वक संचालन किया गया। इस कार्यक्रम में 250 से ज्यादा छात्रों ने हिस्सा लिया। इस मौके पर छात्रों की ओर से कुछ प्रासंगिक सवाल पूछे गए, जिसमें “लडकियां शादी होने के बाद अपना घर छोड़कर क्यों चली जाती हैं? “माता-पिता अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों से क्यों करते हैं?” “बड़े लोग अपने से कम उम्र के लोगों से सलाह लेने में संकोच क्यों करते हैं?” आदि जैसे विभिन्न प्रश्न शामिल थे।

हीरवाल ग्रुप के प्रेसिडेंट और समाजसेवी श्री किशोर धरिया, एवं केन्द्रीय जाँच ज्बुरौ (सीबीआई) के पूर्व अधिकारी श्री निर्मल राजू सहित उपस्थित गणमान्य अतिथियों ने प्रश्नों के उत्तर दिए। छात्रों ने दिल को छू जाने वाले 325 से ज्यादा विचारोत्तेजक सवाल उठाये। इस इवेंट के लिए 50 सर्वश्रेष्ठ सवालों को शॉर्टलिस्ट किया गया था। जूरी ने प्रश्न पूछने के लिए चयनित 50 छात्रों के बैच में से टॉप 3 छात्रों को पुरस्कार के रूप में प्रेरक किताबें प्रदान की। इवेंट में भाग लेने वाले सभी छात्रों की टाटा सॉल्ट ने सराहना की और उन्हें भागीदारी के प्रमाणपत्र दिए।

इस अभियान के एक हिस्से के रूप में टाटा सॉल्ट देश भर के निजी और सरकारी स्कूलों में कार्यक्रम आयोजित करेगा। इसमें 30,000 से ज्यादा बच्चों को शिक्षा दी जाएगी और उन्हें अपने प्रश्न पूछने के लिए एक प्लेटफॉर्म दिया जाएगा। ब्रैंड जूरी की ओर से शॉर्टलिस्ट किए गए चुनिंदा छात्रों को उनकी ओर से पूछे गए सवालों के आधार पर पुरस्कार देगा। जूरी में नीति निर्माता, शिक्षाविद, स्कूल प्रबंधन, पुलिस अधिकारी, सेलिब्रिटीज और ब्यूरोक्रेट्स शामिल होंगे।

भारत में टाटा कंस्यूमर प्रॉडक्ट्स में पैकेज्ड डिविजन की अध्यक्ष, दीपिका भान ने कैंपेन की लॉन्चिंग पर कहा, “वास्तव में बच्चे हमारी सोच को नए रूप में ढाल सकते हैं। वह उन मुद्दों पर सवाल उठाते हैं, जिसे हमने यथास्थिति के रूप में स्वीकार कर लिया है और बलपूर्वक सोच में बदलाव के लिए चुनौती देते हैं। ‘देश के लिए #हर सवाल उठेगा’ एक ऐसा प्लेटफॉर्म है, जो देश के लिए प्रासंगिक सवालों और मुद्दों को उभारने का प्रयास करता है। इस प्लेटफॉर्म की परिकल्पना उस जागरूकता और बदलाव से उत्साहित होकर की गई, जो नई पीढ़ी समाज में लाने का सपना देखती है। टाटा सॉल्ट देश के सबसे विश्वसनीय ब्रैंड में से एक है। हम बच्चों की पूरी पीढ़ी को सवाल पूछने और बेहतर भविष्य के निर्माण में योगदान देने के सफर में निश्चित रूप से उनके साथ हैं।“
हीरवाल ग्रुप के प्रेसिडेंट और समाजसेवी, श्री किशोर धरिया ने कहा, “इस कार्यक्रम के माध्यम से अपने स्कूल की यादों को ताजा करना और फिर से स्टूडेंट्स के बीच होना मेरे लिए एक अद्भुत अनुभव रहा। मैं कुछ विचारोत्तेजक प्रश्न सुनकर व्यक्तिगत रूप से आश्चर्यचकित था। इन प्रशों में व्यापक समाज पर प्रश्न उठाने की क्षमता थी। मैं टाटा सॉल्ट और द सोशल लैब को इस कैंपेन ने लिए बधाई देता हूँ।”

केन्द्रीय जाँच ब्यूरो (सीबीआई) के पूर्व अधिकारी, श्री निर्मल राजू ने कहा, “मुझे कहना ही पड़ेगा कि जब सवाल उठेगा तो जवाब तो ढूँढने ही होंगे। ‘देश के लिए #हर सवाल उठेगा’ कैंपेन का हिस्सा बनना मेरे लिए सम्मान की बात है, जहां स्टूडेंट्स ने सामान्य पर सवाल उठाने की क्षमता और आत्मविश्वास का प्रदर्शन किया है। इस सुखद पहल से मुझे जोड़ने के लिए टाटा सॉल्ट और टीएससल को बहुत-बहुत धन्यवाद!”

Advertisement

Related posts

भाजपा नेता ने खुद को गोली मारी

dinu

नीतीश छोड़ेंगे एनडीए का साथ,राजपाल से मांगा समय

Deepak dubey

बीमा कर्मियों ने लगाया असंवेदनशीलता का आरोप,27 जुलाई से दो दिवसीय हड़ताल, 58 हजार से अधिक कर्मचारी हड़ताल में होंगे शामिल

Deepak dubey

Leave a Comment