Joindia
कल्याणदेश-दुनियामुंबईहेल्थ शिक्षा

All in one vaccine: कोरोना के हर वैरिएंट पर कारगर, ऑल इन वन वैक्सीन, वैज्ञानिकों ने तैयार किया टीका

Advertisement

मुंबई। कोरोना के कई वैरिएंट से निजात पाने के लिए वैज्ञानिकों ने बड़ा समाधान खोज निकाला है। अमेरिकी और यूरोपीय वैज्ञानिकों के मुताबिक उनके द्वारा तैयार किया गया यह ऑल इन वन टीका न कोरोना के कई वैरिएंट से सुरक्षित रखेगा। इसके साथ ही यह टीका ओमायक्रॉन, डेल्टा,अल्फा, गामा, एक्स समेत कोरोना के कई वैरिएंट से बचाव में कारगर साबित हो सकता है।

Advertisement

दुनिया की प्रमुख यूनिवर्सिटी के साइंटिस्ट की एक टीम को कोरोना के खिलाफ लड़ाई में बड़ी सफलता हाथ लगी है। इस टीम ने कोरोना को मात देने के लिए नया ऑल-इन-वन डोज डेवलप किया है। ऑक्सफोर्ड, कैंब्रिज यूनिवर्सिटी और अमेरिका में कैलटेक के शोधकर्ताओं ने मिलकर यह स्टडी की है, जिसमें कोरोनावायरस के आठ अलग-अलग वैरिएंट पर इसके प्रभाव की जांच भी की गई। इसमें सार्स कोविड-2 भी शामिल है, जो कोविड-19 के प्रकोप का कारण बना था और कई वैरिएंट जो वर्तमान में हवा में घूम रहे हैं और मनुष्यों में फैलने और महामारी पैदा करने की क्षमता रखते हैं। सोमवार को ‘नेचर नैनोटेक्नोलॉजी’ में साइंटिस्ट का यह रिसर्च पब्लिश हुआ है, जिसमें कहा है कि यह नई खोज वैक्सीन डेवलपमेंट के दृष्टिकोण प्रोएक्टिव वैक्सीनोलॉजी पर आधारित है, जिसने चूहों में आशाजनक परिणाम दिखाए हैं। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि यह डोज इंसानों को कोरोना के हर वैरिएंट से बचा सकता है। इनमें वे वैरिएंट भी शामिल हैं, जो अभी तक सामने नहीं आए हैं। दरअसल, कोरोना को लेकर सामने आया है कि यह वायरस अपने स्वरूप में लोगों की मुश्किलें बढ़ाता है। इस वायरस से बचाव सिर्फ वैक्सीन से ही संभव हो सकता है।

जल्द तैयार करने की है कोशिश

कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के फार्माकोलॉजी विभाग में ग्रेजुएट रिसर्चर रोरी हिल्स ने कहा कि हमारा ध्यान एक ऐसी डोज बनाने पर है, जो हमें अगले कोरोना से बचाएगा। इसे जल्द तैयार करने की कोशिश है। सार्स कोविड-1 कोरोना शामिल नहीं है, लेकिन फिर भी उस वायरस के प्रति इंसानों में प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया पैदा कर सकता है। हिल्स ने कहा कि हमने एक डोज बनाया है, जो विभिन्न प्रकार के कोरोना वायरस से सुरक्षा प्रदान करता है, जिनमें वे वैरिएंट भी शामिल हैं जिनके बारे में हम अभी तक नहीं जानते हैं। यह कोरोना के अन्य वैरिएंट के खिलाफ भी सुरक्षा प्रदान करता है, जिनमें वे भी शामिल हैं जिनकी अभी तक पहचान भी नहीं की गई है।

भविष्य के लिए बेहतर काम करने की जरूरत

उन्होंने कहा कि वैज्ञानिकों ने पिछली महामारी के दौरान एक अत्यंत प्रभावी कोविड वैक्सीन का त्वरित उत्पादन करने में बहुत अच्छा काम किया है, लेकिन दुनिया में अभी भी भारी संख्या में मौतों के साथ एक बड़ा संकट है। हमें इस पर काम करने की जरूरत है कि हम भविष्य में इससे भी बेहतर कैसे कर सकते हैं और इसका एक शक्तिशाली घटक पहले से ही टीके बनाना शुरू कर रहा है। ऐसा कहा जाता है कि ऑक्सफोर्ड और कैलटेक ग्रुप द्वारा कोरोना के खिलाफ ऑल-इन-वन वैक्सीन विकसित करने के पिछले काम में सुधार किया गया है. इस नए शोध को यूके की जैव प्रौद्योगिकी और जैविक विज्ञान अनुसंधान परिषद द्वारा वित्त पोषित किया गया है।

Advertisement

Related posts

महायुति को राज ठाकरे के समर्थन की नहीं थी ज़रूरत

Deepak dubey

मलिक की गिरफ्तारी पर प्रदर्शन: उद्धव सरकार में शामिल सभी मंत्री-विधायक मुंबई में विरोध जता रहे, इनके खिलाफ BJP भी सड़कों पर

cradmin

MUMBAI: शरद पवार को नहीं है अजित पवार पर भरोसा, धमकियों से मिला था विरोधी पक्ष नेता का पद- केंद्रीय गृह राज्य मंत्री

Deepak dubey

Leave a Comment