Joindia
इवेंटबिजनेस

MSME bharat manch: रुपीबॉस फाइनेंशियल सर्विसेज बना छोटे व्यापारियों और उद्यमियों के लिए आर्थिक मंच

Advertisement

एमएसएमई (MSME bharat manch) भारत मंच के तहत रुपीबॉस फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ने एक राष्ट्रव्यापी पहल की शुरुआत की। और “गियरिंग अप फॉर” थीम के साथ हाथ मिलाया है। एन्क्यूब के सहयोग के द्वारा सूक्ष्म , लघु और मध्यम उद्यम (MSMEs) आईपीओ (IPO)” राष्ट्रीय कार्यशाला की पहली श्रृंखला का आयोजन शुक्रवार 19 मई को अंधेरी स्थित होटल कोहिनूर कॉन्टिनेंटल में किया गया।

Advertisement

यह वास्तविक सीख और मुख्य बातों के साथ अपनी तरह की पहली कार्यशाला रही, जो सफल एमएसएमई आईपीओ प्रमोटर्स और एमएसएमई के लिए विशिष्ट उद्योग के दिग्गजों से इंटरेक्टिव ओरिएंटेड प्रारूप के रूप में जुड़ी पाई गई। एग्जिकॉन ग्रुप के प्रबंध निदेशक एम क्यू सैयद ने कहा कि इस कार्यशाला में ढाई सौ एमएसएमई कंपनियों ने हिस्सा लिया।

MSME से 40% से अधिक रोजगार सृजन

एमएसएमई को अर्थव्यवस्था की रीढ़ माना जाता है, एमएसएमई देश की जीडीपी (GDP) में 30% का योगदान करते हैं और 40% से अधिक रोजगार उपलब्ध करवाते हैं, जिसमें लगभग 110 मिलियन कर्मचारी शामिल हैं। यह एमएसएमई के समर्थन के महत्व को हाईलाइट करते हुए उन्हें आगे बढ़ने में मदद करता है, जिससे न केवल उनके स्वयं के लाभ के लिए बल्कि समग्र आर्थिक विकास के लिए भी मदद मिलती है। एमएसएमई भारत मंच के अध्यक्ष पीएन शेट्टी ने कहा कि कार्यशाला का उद्देश्य आरंभिक सार्वजनिक पेशकश के संबंध में मूल्यवान अंतर्दृष्टि और जानकारी प्रदान करना है। (आईपीओ) प्रक्रिया और व्यवसायों के लिए इसका लाभ, विशेष रूप से सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) के लिए, सार्वजनिक होने के फायदे और नुकसान सहित, आईपीओ की तैयारी में शामिल कदम और कई संबंधित विषयों पर आधारित है।

कार्यशाला में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के विभिन्न वरिष्ठ अधिकारियों और अन्य उद्योग विशेषज्ञों और बिज़नेस लीडर्स ने अपने अनुभव और अंतर्दृष्टि साझा किया। www.joindia.co.in को उन्होंने बताया कि एमएसएमई आईपीओ प्रक्रिया से कैसे लाभान्वित हो सकते हैं। एमएसएमई बिजनेस ऑनर्स को भी वक्ताओं से बातचीत करने का अवसर मिला। बीएसई एसएमई प्लेटफॉर्म पर 432 कंपनियां सूचीबद्ध हैं जिन्होंने बाज़ार से 64,708.92 करोड़ रुपये उठाए और 17 अप्रैल, 2023 को कुल बाजार का पूंजीकरण 19,957.26 करोड़ रुपये है। बीएसई 60 प्रतिशत से अधिक की बाज़ार हिस्सेदारी के साथ इस सेग्मेंट में मार्केट लीडर है।

प्रमुख अतिथि

अनंत सिंघानिया, अध्यक्ष- आईएमसी चैंबर ऑफ कॉमर्स और सीईओ- जेके एंटरप्राइजेज,
मनीष शाह, प्रबंध निदेशक और सीईओ – गोदरेज कैपिटल,
अजय ठाकुर – प्रमुख, बीएसई एसएमई और स्टार्टअप
एनबी शेट्टी, अध्यक्ष-रुपीबॉस फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड,
पीएन शेट्टी, अध्यक्ष – एमएसएमई भारत मंच, डॉ.नरेंद्र मैरपाडी, पूर्व अध्यक्ष और एमडी – एन्क्यूब सहयोग, डॉ.जी.रमेश कुमार, महानिदेशक आदि इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थे जिन्होंने एमएसएमई के विकास और एमएसएमई के पारिस्थितिकी तंत्र के बारे में अपनी बहुमूल्य अंतर्दृष्टि साझा की।

APMC: एपीएमसी में शुरू हुई  मशहूर शाही लीची की आवक, 300 रुपए किलो हो रही विक्री 

ऐसे मिलेगी मदद

मदद हेतु एमएसएमई का कारोबार बढ़ाने के लिए एमएसएमई भारत मंच द्वारा राष्ट्रीय कार्यशाला के सफल आयोजन हुआ। रुपीबॉस फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड (www.rupeeboss.com) खुदरा और एमएसएमई के लिए एक राष्ट्रीय वितरक हैं, जो 100 से अधिक निजी, पीएसयू बैंकों, एमएनसी बैंकों और एनबीएफसी का देश में प्रतिनिधित्व करने वाले सुरक्षित और असुरक्षित व्यापार के ऋण उत्पाद और अब तक 13000 से अधिक एमएसएमई और खुदरा ग्राहकों की मदद कर चुके हैं। एमएसएमई पैन इंडिया आईओएस और एंड्रॉयड दोनों पर एमएसएमई भारत मंच मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड कर सकता है और www.msmebharatmanch.com पर पोर्टल पर दी जाने वाली सेवाओं के बारे में अधिक जानकारी के लिए पंजीकरण भी किया जा सकता है।

Indian Navy’s Operation Samudragupt: भारतीय नौसेना का ऑपरेशन समुद्रगुप्त, एनसीबी के साथ मिलकर नशे के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, 15 हजार करोड़ ड्रग्स के साथ पाकिस्तानी गिरफ्तार

Advertisement

Related posts

Farmar’s protest: किसानों के मुद्दे पर सरकार द्वारा बैठक रद्द करने से किसान आक्रोशित

Neha Singh

दीपिका पादुकोण की ‘भगवा बिकिनी’ पर हिंदू महासभा ने दी चेतावनी,विवाद के बाद बायकॉट की मांग

Deepak dubey

Apna purvanchal mahasangh: भगवान परशुराम चौक बनाने की मांग को लेकर सांसद को सौंपा ज्ञापन

Deepak dubey

Leave a Comment