Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियामुंबईराजनीति

लोकसभा से पहले मिंढे गुट के 13 में से 10 सांसदो का होगा विसर्जन …”, ठाकरे गुट के नेता का बड़ा बयान

Advertisement

मुंबई।शिवसेना (ठाकरे गुट) सांसद विनायक राउत ने बड़ा बयान दिया है. शिंदे गुट के कई लोग संपर्क में हैं. विनायक राऊत ने कहा है कि लोकसभा चुनाव से पहले मिंढे ग्रुप में बड़ा भूचाल आएगा. साथ ही विनायक राऊत ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की भी आलोचना करते हुए कहा कि गद्दारों को उद्धव ठाकरे को ज्ञान सिखाने के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए. वह रत्नागिरी में मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

राज्य में 21 से अधिक समाजवादी जनता परिवार संगठनों ने उद्धव ठाकरे के साथ रहने का संकल्प व्यक्त किया। इस पर मुख्यमंत्री शिंदे ने आलोचना करते हुए कहा कि ‘ठाकरे उन सभी लोगों को मारने का काम कर रहे हैं जिन्होंने हमेशा बालासाहेब के खिलाफ स्टैंड लिया, उनके विचारों और तरीकों को लेकर आरोप लगाए।’ इस पर विनायक राऊत ने जवाब दिया.

उन्होंने कहा, ”मुख्यमंत्री का परेशान होना स्वाभाविक है. क्योंकि, देश में इंडिया अलायंस मजबूत हो रहा है. सभी लोकतांत्रिक पार्टियाँ इंडिया अलायंस का समर्थन कर रही हैं। जैसे-जैसे समाजवादी संगठनों की ताकत उद्धव ठाकरे के पास आती जा रही है, वैसे-वैसे बाकी लोग बौखलाते जा रहे हैं. भारत अघाड़ी 2024 में चमत्कार करेगी, ऐसा विनायक राऊत ने व्यक्त किया।

मुख्यमंत्री ने उद्धव ठाकरे की आलोचना करते हुए कहा कि ‘जिस तरह खाने में मिलावट होती है, उसी तरह हिंदू धर्म में मिलावट की जा रही है.’ इस पर विनायक राऊत ने कहा, ”वे हिंदुत्व के प्रति बेईमान हो गए हैं. अगर पूछोगे कि बर्तन गंदा किसने किया तो दुनिया नाम बता देगी. इसलिए गद्दारों को उद्धव ठाकरे को ज्ञान सिखाने के झांसे में नहीं आना चाहिए।”

 

”कहा जा रहा है कि धोखा खाने वाले 13 सांसदों में से 3 लोगों को चुनाव लड़ने का मौका मिलेगा. बाकी 10 लोगों का विसर्जन 100 फीसदी होगा. उनमें से कई लोग अलविदा कह रहे हैं. इस समय किसी का नाम नहीं लिया जाएगा. लेकिन, मिंधे ग्रुप में बड़ा भूचाल आएगा. अप्रैल महीने में लोकसभा चुनाव होते हैं. विनायक राउत ने दावा किया, ”फरवरी में आचार संहिता की घोषणा होने से पहले ही यह भूकंप आ जाएगा.”

Advertisement

Related posts

किशोरी पेडनेकर का केंद्र पर निशाना: मुंबई की मेयर ने कहा-24 घंटे के लिए केंद्र CBI और ED हटा दे हम दिखा देंगे क्या कर सकते हैं हम

cradmin

Ashwamedha Mahayagya: न भूतो न भविष्यति जैसा है मुंबई अश्वमेध महायज्ञ नगर विराट कलश यात्रा के साथ महायज्ञ का शंखनाद

Deepak dubey

घूर रहा था… लेली जान

Deepak dubey

Leave a Comment