Joindia
क्राइमकल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबईसिटी

MUMBAI: बीमा पॉलिसी मैच्योरिटी के नाम पर बुजुर्गो से ठगी , नोएडा के फर्जी कॉल सेंटर पर छापेमारी कर तीन को किया गिरफ्तार , दो फरार

Advertisement
Advertisement

मुंबई | वरिष्ठ नागरिकों को बीमा पॉलिसी मॅच्युरिटी के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश मुंबई साइबर सेल ने किया है  | उत्तर प्रदेश के नोएडा में फर्जी कॉल सेंटर पर छापेमारी करते हुए गिरोह के तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है |

घाटकोपर के रहने वाले ड्राई फ्रूट के थोक व्यापारी को फोन कर खुद को इंश्योरेंस कंपनी का बताकर उनका उनकी बीमा पॉलिसी मैच्योरिटी होने का झांसा देकर साढ़े चार करोड़ रुपये ठग लिए थे | इस मामले में घाटकोपर पुलिस ने शिकायत दर्ज कर जांच साइबर सेल को सौप दी थी | मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच साइबर डिवीजन ने पिछले पंद्रह दिनों से मुंबई शहर में बीमा के नाम पर वरिष्ठ नागरिकों को ठगने वाले गिरोह की तलाश शुरू कर दी है | इस बिच पुलिस को तकनीकी जांच कर नोएडा इलाके में स्थित एक फर्जी कॉल सेंटर की जानकारी मिली | जिसके बाद उस जगह पर छापेमारी करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया | गिरफ्तार आरोपियों ने मुंबई शहर के वरिष्ठ नागरिकों से साढ़े पांच करोड़ रुपये से अधिक की ठगी की है | आरोपी मुंबई में वरिष्ठ नागरिकों और युवाओं को ओएलएक्स पर नौकरी दिलाने के लिए नोएडा में एक कॉल सेंटर का इस्तेमाल कर रहा था और वरिष्ठ नागरिकों को यह झांसा देकर धोखा दे रहा था कि उन्हें बीमा पॉलिसी की मैचोरिटी पर अधिक पैसा मिलेगा।

जाली दस्तावेजों के आधार पर 25 से अधिक बैंकों में खाते

आरोपियों ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर 25 से अधिक बैंकों में खाते खुलवाए थे और फर्जी दस्तावेजों के आधार पर इन आरोपियों ने बड़ी संख्या में सिम कार्ड भी लिए | इन्ही सिम कार्ड से मुंबई शहर में वरिष्ठ नागरिकों को फोन करके धोखाधड़ी का नेटवर्क चला रहे थे । मुंबई पुलिस की साइबर क्राइम ब्रांच ने इन आरोपियों के पास से 14 मामले का पर्दाफाश किया है और इन आरोपियों के पास से 20 लाख 50 हजार रुपये भी जब्त किए हैं | पुलिस ने आरोपियों से लोगों को ठगने के लिए तैयार किए गए फोन नंबर, ईमेल आईडी, आधार कार्ड, इनकम टैक्स स्टेटमेंट समेत 12 मोबाइल फोन और 3 लैपटॉप जब्त किए हैं | इन तीन आरोपियों के साथ दो और साथी फरार हो गए हैं जिनकी तलाश अब मुंबई पुलिस की साइबर टीम कर रही है इस बीच मुंबई पुलिस की साइबर क्राइम ब्रांच ने वरिष्ठ नागरिकों से ऑनलाइन ठगी करने वालों से सावधान रहने की अपील की है। अगर उनके साथ ऑनलाइन ठगी हुई है, तो उन्हें तुरंत मुंबई पुलिस के टोल फ्री नंबर 1930 पर संपर्क करने का आवाहन किया है |

Advertisement

Related posts

पानी से लबरेज होंगे दक्षिण मुंबई के पॉस इलाके  

Dhiru

MUMBAI : फॉर्मूला ग्रुप और शिखर एनजीओ की अच्छी पहल , धारावी के बच्चों में बांटी गई क्रिसमस की खुशियां

Deepak dubey

अमृत महोत्सव ऑफ फ्रीडम रन’ के लिए कई मार्गों में परिवर्तन

Deepak dubey

Leave a Comment