Joindia
कल्याणक्राइमठाणेदेश-दुनियामुंबईसिटी

डॉन’ के गुर्गों का दुबई में सेलिब्रेशन पार्टी, बॉलीवुड सितारों को 40 करोड़ रुपये दिए जाने का संदेह

Advertisement

मुंबई। अंडरवर्ल डॉन दाऊद इब्राहिम(underworld don dawood ibrahim)के दो गुर्गों द्वारा पिछले साल अवैध रूप से सट्टेबाजी का एप्प लांच किया गया था ।इस एप्प को काफी सफलता मिली है । सट्टेबाजी ऐप की सफलता का जश्न मनाने के लिए 18 सितंबर को दुबई में सेलिब्रेशन पार्टी का आयोजन किया गया है। जिसमे कई मशहूर बॉलीवुड अभिनेताओं और अभिनेत्रियों को बुलाया गया है इसके बदले उन्हें एडवांस में 40 करोड़ रुपये तक का भुगतान करने के संदेह में ईडी ने एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी पर छापा मारा है।

जानकारी के अनुसार सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल दोनों ही दाऊद के गुर्गे बताए जाते हैं। जांच एजेंसियां पहले भी उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर चुकी हैं। दोनों ने हाल ही में महादेव ऐप लांच किया था जिसके माध्यम से अवैध सट्टेबाजी और कैसीनो की सुविधा देता है। ऐप को मिल रही शानदार सफलता के बाद इसकी सफलता का जश्न मनाने के लिए 18 सितंबर को दुबई में एक सेलिब्रेशन पार्टी का आयोजन किया ।

बॉलीवुड सितारों की भी होगी जांच?

ईडी अधिकारियों को जानकारी मिली है कि बॉलीवुड में कई प्रमुख अभिनेता और अभिनेत्रियों ने महादेव ऐप का जमकर प्रचार किया है। माना जा रहा है कि ईडी के अधिकारी जल्द ही इस मामले में बॉलीवुड की कुछ सितारों को नोटिस भेजकर बुलाने वाली है ।जांच करेंगे क्योंकि कई सितारों को पैसे देकर पार्टी में बुलाया गया है।

एप के माध्यम से करोड़ों का टर्नओवर

हालांकि यह ऐप भारत में बैन है, लेकिन विदेशों में कई लोग इस ऐप के जरिए सट्टा लगा रहे हैं। ईडी अधिकारियों को यह भी जानकारी मिली है कि इस ऐप कंपनी ने अब तक 6 हजार करोड़ रुपये का कारोबार किया है और यह भी पता चला है कि भारत से आया पैसा हवाला के जरिए दुबई पहुंचा है। इस ऐप पर पोकर, कार्ड, क्रिकेट, बैडमिंटन, क्रिकेट, टेनिस, फुटबॉल जैसे कई खेलों पर भी सट्टेबाजी देखी गई है।इस पार्टी के आयोजन का जिम्मा उन्होंने मुंबई की एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी को दिया था। इस कंपनी ने इस पार्टी में बॉलीवुड के कई मशहूर कलाकारों को आमंत्रित किया है।ईडी अधिकारियों को जानकारी मिली कि उनसे एग्रीमेंट किया गया था और इस पार्टी के लिए उन्हें लगभग 40 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया था।ईडी को शक है कि यह पैसा इस ऐप कंपनी ने अवैध तरीके से कमाई गई रकम से दिया है। इस मामले में ईडी के अधिकारियों ने इस कंपनी के दफ्तर पर छापेमारी की है। जांच शुरू कर दी है ।

Advertisement

Related posts

Hindu janajagruti samiti:कराड के ‘यशवंतराव चव्हाण समाधि स्मारक’के निकट बनी अवैध मजार हटाएं !, – हिन्दू जनजागृति समिति की मुख्यमंत्री एवं गृहमंत्री से मांग !

Deepak dubey

नवाब मलिक के साथ उद्धव सरकार: जेल में बंद मंत्री से नहीं लिया जाएगा इस्तीफा, उनके दो मंत्रालयों का काम दूसरों को संभालने के लिए दिया जाएगा

cradmin

तलाक-ए-हसन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची महिला

Deepak dubey

Leave a Comment