Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबईसिटीहेल्थ शिक्षा

WHO’s guidelines for Diabetes and BP: कंट्रोल में रहेगी डायबिटीज और हाई बीपी, डब्ल्यूएचओ के गाइडलाइंस का करें पालन, कोविड के बाद हावी हो रही दोनों बीमारियां, तेजी से चपेट में आ रहे युवा

Advertisement

मुंबई। डायबिटीज (Diabetes) और हाई बीपी (High bp) की समस्या जिस तेजी से युवाओं को अपनी चपेट में ले रही है, इससे बचने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization or WHO’s guidelines for Diabetes and BP) की तरफ से समय-समय पर कुछ ना कुछ हेल्थ गाइडलाइंस (WHO’s guidelines for Diabetes and BP) जारी किए जाते रहते हैं। साथ ही कई मेडिकल रिसर्च (medical research) भी पब्लिश होती रहती हैं। कोविड के बाद जो बीमारियां सबसे अधिक हावी हो रही हैं उनमें हाई बीपी और डायबिटीज के मामले बहुत अधिक हैं। ऐसे में डब्ल्यूएचओ (WHO)ने दोनों बीमारियों को लेकर गाइडलाइंस जारी की है। इसका पालन करने से दोनों बीमारियों का कंट्रोल में रहेंगी।
उल्लेखनीय है कि ये दोनों बीमारियां मुख्य रूप से शक्कर(Sugar) और नमक (Salt) के अधिक सेवन करने से होती हैं। साथ में यदि ऑइल या फैट कंटेंट भी अधिक हो तो ये फूड्स बहुत जल्दी बीमार और कमजोर बनाते हैं। इन्हें ध्यान में रखते हुए डब्ल्यूएचओ की तरफ से स्वास्थ्यवर्धक भोजन को लेकर कुछ जरूरी गाइडलाइन्स जारी की गई है, ताकि लोग लाइफस्टाइल के कारण इन बीमारियों की चपेट में आने से बच सकें। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस बारे में सभी देशों को अलर्ट किया था, जिसके बाद कई देशों ने अपने मार्केट में मिलने वाले जंक फूड्स पर पाबंदी लगा दी।

Advertisement

दिन में इतनी खानी चाहिए नमक और शक्कर

डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइन्स के अनुसार एक स्वस्थ व्यक्ति को एक दिन में अधिक से अधिक 5 ग्राम नमक खाना चाहिए। इससे ज्यादा मात्रा में नमक खाने से बीपी हाई रहना और हड्डियों के कमजोर होने की समस्या बढ़ सकती है। इसी तरह एक दिन में 6 से 8 चम्मच चीनी का सेवन करना चाहिए। शुगर अथवा हाई बीपी की समस्या होने पर रिफाइंड शुगर इस्तेमाल करने से पूरी तरह बचना चाहिए। इसकी जगह फल और सूखे मेवे खाने चाहिए, ताकि स्वीट क्रेविंग शांत हो सके और नैचरल शुगर की एनर्जी मिले।

स्ट्रोक और हार्ट अटैक का बढ़ सकता है खतरा

कोलेस्ट्रॉल, हाई बीपी, शुगर की समस्या, कोई लंबी, गंभीर और पुरानी बीमारी जिसे नहीं है, उस व्यक्ति को एक दिन में अधिकतम चार चम्मच तेल का उपयोग करना चाहिए। मेल्ट हुए देसी घी पर भी यही मात्रा लागू होती है। हालांकि देसी घी यदि गाय का है तो इसकी मात्रा एक-दो चम्मच बढ़ा सकते हैं। इस तय मात्रा से अधिक चिकनाई डेली लाइफ में खाने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ सकता है और हार्ट अटैक या स्ट्रोक का खतरा भी बढ़ जाता है।

Modi govt. 2.0 budget: चुनाव पर नजर, बजट पर दिखा असर, जानिए क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा

MUMBAI : फ्रांसीसी और भारतीय नौसेना ने दिखाया अपने युद्ध कौशल का जलवा

प्रेम, सौंदर्य, प्रकृति और जीवन के विभिन्न विषयों पर अविस्मरणीय कविता संग्रह है आत्मशारदा

Advertisement

Related posts

कोश्यारी के राज्यपाल रहते हुए जुटाए गए चंदे की जानकारी राजभवन के पास नहीं है

Deepak dubey

इंस्टाग्राम पर अमेरिकन से दोस्ती महिला को पड़ा भारी

vinu

मुंबई में पैराग्लाइडर, ड्रोन के इस्तेमाल पर प्रतिबंध; यह है कारण ..

Deepak dubey

Leave a Comment