Joindia
क्राइमरीडर्स चॉइसहेल्थ शिक्षा

Menstrual blood sale: बहू के माहवारी का खून 50 हजार में बेचता था, शौक से लोग खरीदते थे

Menstrual blood sale
Advertisement

महाराष्ट्र के पुणे (pune from maharashtra) से एक झकझोर देने वाली घटना सामने आई है। जहां परिवार की बहू का मासिक धर्म (Menstrual blood sale) के दौरान निकले वाले रक्त को निकालकर उसे बेचा जाता था। आश्चर्य है कि उसके खरीददार 50 हजार रुपए लेकर तैयार रहते थे। मामला तब उजागर हुआ जब बहू किसी बहाने अपने मायके पहुंची और फिर वहां से लौटने से इनकार दिया। बहू को जबरन लाने का प्रयास किया गया। तब उसने पुलिस को पूरी हकीकत बताई। पुलिस ने भी कार्रवाई करते हुए उसके देवर सहित अन्य तीन को गिरफ्तार किया है।

Advertisement

बीड जिले की एक महिला की शादी पुणे में हुई थी। पुणे के विश्रांत वाडी में वह महिला अपने परिवार के साथ रहती थी। उसके देवर ने उससे मासिक रक्त की मांग की। लेकिन उस महिला ने उसे मासिक रक्त देने से इनकार कर दिया। देवर ने कहा कि उसे ऐसी महिला का मासिक रक्त चाहिए जिसे बच्चा न जन्मा हो, महिला गुस्सा हो गई। और कहा कि तुम्हारी पत्नी से जॉकर ले लो, उससे जो चाहो तो मांगों, मुझसे कुछ ऐसा वैसा नहीं मांगना। लेकिन उसके देवर को तो उसका मासिक रक्त चाहिए था आखिर वह उसके लिए 50 हजार रुपए का सौदा कर चुका थ। एक दिन मुक़ा देखकर उसका देवर, चचेरा देवर, एक पड़ोसी ने महिला के साथ जोर जबरदस्ती कर मासिक रक्त निकाला। उसके बाद यह घटना कई बार हुई।

Kirit Soumya reprimanded for high court: हाईकोर्ट की फटकार , न्यायिक जाँच का आदेश , कोर्ट का आदेश और एफआईआर की कॉपी सोमैया को पहले कैसे मिली

इस बारे में महिला ने अपने सास को भी बताया, लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की। फिर एक दिन किसी बहाने से वह महिला अपने मायके चली गई। लेकिन बाद में उसने मायके से वापस लौटने से साफ इंकार कर दिया। एक मामले में जांच करते हुए उसके मूल गांव बीड में उसके मायके पहुंची। तब इन सब बातों का खुलासा हुआ। पुलिस ने महिला का बयान लेकर पीड़ित की शिकायत दर्ज कर ली है। आरोपियों पर घरेलू हिंसा, अशांति और अभद्रता करने की धारा 377, धारा 498 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

आरोपियों ने खुसा किया है कि वे बहू के मासिक रक्त का उपयोग काला जादू के लिए करते थे। महिला के एक मासिक रक्त के नमूने के लिए वे लोग ग्राहकों से 50 हजार रुपए वसूलते थे। आरोपियों ने बताया कि काला जादू के लिए जिन बहुओं को बच्चे जन्मे नहीं है उनके मासिक रक्त की डिमांड ज्यादा होती थी।

Bihari migrants attacked in tamilnadu: तमिलनाडु से जैसे तैसे भाग रहे हैं बिहारी, अबतक 15 लोगों की गई जान

Advertisement

Related posts

कमाल की है यह सर्जरी, एक महीने में घट गया 41 किलो वजन

Neha Singh

मायानगरी मुंबई में रोजाना 4 लोग कर रहे आत्महत्या ,युवाओं की संख्या अधिक

Deepak dubey

Crime mumbai : लैपटॉप लोकेशन से लगा चोरों का सुराग , अंतरराज्यीय गिरोह के तीन गिरफ्तार, आठ मामलों का हुआ खुलासा

Deepak dubey

Leave a Comment