Joindia
Uncategorizedदेश-दुनियामुंबई

Coastal road project:- कोस्टल रोड परियोजना में सड़क के साथ मुंबईकरों को दर्जनों सुविधाएं मिलेंगी, जानिए खास सुविधाएं

Advertisement

मुंबई:- महानगर मुंबई मनपा और शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे की महत्वाकांक्षी परियोजना कोस्टल रोड परियोजना (Coastal road project) का काम तेजी से आगे बढ़ रहा है। अब तक लगभग 72 प्रतिशत काम पूरा कर लिया गया है। इस परियोजना को इसी साल अंत तक पूरा करने का लक्ष्य है। मुंबईकरों को शायद ही पता होगा कि कोस्टल रोड परियोजना के साथ दर्जनों योजनाओं पर काम हो रहा है। कोस्टल रोड के साथ साथ मुंबईकरों को दर्जनों सुविधाएं प्रदान होने वाली है। ट्रफिक की समस्या के साथ साथ 1800 वाहनों की अंडरग्राउंड पार्किंग की व्यवस्था, समुंदर किनारे सैर सपाटे के लिए लंबा पट्टा, खेल मैदान, लाइब्रेरी सहित तमाम सुविधाएं लोगों को प्रदान की जाएगी। मनपा की ओर से शुरू की गई इस सबसे प्रतिष्ठित परियोजनाओं के पहले भाग में 10.58 किलोमीटर लंबी सड़क समुंदर किनारे से बनाई जाएगी। इसमें प्रिंसेस स्ट्रीट मरीन ड्राइव से से बांद्रा- वर्ली सी लिंक तक होगी। इस परियोजना में मरीन ड्राइव से प्रियदर्शनी तक जुड़ावा सुरंग होगी। यह देश की पहली सुरंग है जो समुंदर के 100 मीटर से अधिक नीचे से गुजर रही है।

Advertisement

तमाम होंगी सुविधाएं

कोस्टल रोड परियोजना के मुख्य इंजीनियर एमएम स्वामी ने कहा कि इस परियोजना को एक बार पूरा हो जाने पर प्रियदर्शनी पार्क से वर्ली तक 7. 50 किलोमीटर का सफर बिना रुके पूरा किया जा सकेगा। साथ ही यहां समुंदर के किनारे लोग सैर सपाटे कर सकेंगे। यहां लोगों को बगीचों के साथ नई खुली जगह, एक साइकिल ट्रैक, जॉगिंग ट्रैक और मनोरंजन पार्क, लाइब्रेरी, मॉडर्न शौचालय और एक ओपन थिएटर की सुविधा होगी। यहां एक तितली पार्क भी होगा। हम कुल 70 हेक्टेयर भूमि में यह सब सुविधाएं विकसित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हरित स्थान प्रदूषण को कम करने और हवा गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करेगा।

आपातकाल के लिए विशेष लेन

स्वामी ने बताया कि इस परियोजना में एक लेन आपातकालीन सेवा के लिए समर्पित होगी। वह लेन पर बस, एम्बुलेंस और आपातकालीन अग्निशमन सेवाओं के लिए समर्पित होगी। इससे किसी भी समय सुरक्षा से जुड़े वाहनों को तत्काल गंतव्य तक पहुंचने में मदद होगी।

कुल 4 जगहों पर अंडरग्राउंड पार्किंग

यहां कुल चार पार्किंग प्लाट हैं। अंडरग्राउंड पार्किंग की व्यवस्था होगी। 1800 वाहनों को चारों प्लाट में पार्क किया जा सकेगा। एक अमरसन्स गार्डन, हाजी अली और वर्ली में दो लोकेशन पर अंडरग्राउंड पार्किंग बनाया जा रहा है।

पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे की संकल्पना

शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) के पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे की यह महत्वाकांक्षी परियोजना है। मुंबईकरों के लिए उन्होंने यह सौगात देना की योजना अबनै थी। उदध्व ठाकरे के अनुसार यह नो-टोल रोड योजना होगी। मुंबईकर इसका बिना किसी अड़चन के लाभ ले सकेंगे। यह परियोजना मनपा ने दिसंबर 2018 में ठाकरे की उपस्थिति में शुरू की गई थी। उनकी संकल्पना को अब मनपा साकार करने की तरफ आगे बढ रही है।

क्या है परियोजना

मुंबई मनपा की ओर से 12,721 करोड़ रुपये की लागत से कोस्टल रोड परियोजना बन रही है। प्रिंसेस स्ट्रीट फ्लाईओवर से बांद्रा-वर्ली सी लिंक के वर्ली छोर तक कुल 10.58 किमी लंबी इस परियोजना के तहत 2.07 किमी लंबी सुरंग बनाई जा रही है। इस सड़क परियोजना से करीब 70 प्रतिशत समय की बचत होगी। वहीं ईंधन, समय और प्रदूषण में बचत होगी।

कोस्टल रोड के अनगिनत फायदे

– यह मुंबई के दक्षिणी और उत्तरी हिस्सों के बीच रोड कनेक्टिविटी को बेहतर बनाने में मदद करेगा और दक्षिण मुंबई की ऐतिहासिक और हेरिटेज को देखने के लिए भी लोग आसानी से पहुंच सकेंगे।

-इससे वाहनों की आवाजाही में लगने वाले समय में 70 प्रतिशत की कमी आएगी और 14 प्रतिशत ईंधन की बचत होगी

-सामान्य यातायात स्थितियों में दिन के समय मरीन ड्राइव और वर्ली के बीच घंटो का समय लगता है। लेकिन इसके बनाने पर मात्र 20 से 25 मिनट में पहुंचा जा सकेगा।

– इसमें समर्पित बस लेन होंगी और बसें आसानी से कम समय मे ज्यादा दूरी तय कर पाएंगी। इससे मौजूदा सड़कों पर ट्रैफिक कम करने में मदद मिलेगी।

– ट्रैफिक कम होने से हवा गुणवत्ता में सुधार होगा

– समुंदर की तूफानी लहरों और बाढ़ को रोकने के लिए लगभग 70 हेक्टेयर तक तटीय सुरक्षा दीवार बनाई जा रही है।

– समुद्री जीवों को कोई नुकसान न हो इसके लिए नेचुरल पत्थरों का उपयोग कर समुंदर की दीवार बनाई जा रही है।

——

इतना काम हुआ पूरा
प्रियदर्शनी पार्क से बड़ौदा पैलेस अबतक 72.81 प्रतिशत
बांद्रा- वर्ली सी लिंक के वर्ली छोर से बड़ौदा पैलेस तक अबतक 62.70 प्रतिशत

—–

परियोजना की मुख्य विशेषताएं

कुल लंबाई – 10.58 कि.मी

सी फेस रेक्लेमशन रोड- 4.35 कि.मी

जुड़वां सुरंग- 2.1 किमी लंबाई (प्रत्येक)

कुल रिकलेमेशन क्षेत्र- 111 हेक्टेयर

भूमिगत पार्किंग- 1800 कारें (अमरसन्स गार्डन, हाजी अली, वर्ली में दो)

समुद्र की दीवार- 7.47 कि.मी

सुरंग के बाहर 8 (4-4) लेन की सड़क

जब कि सुरंग में 3+3 लेन की सड़कें

Unoin budget में मुंबई व महाराष्ट्र के हाथ खाली धोखा, मुंबईकरों में दिखी नाराजगी

Advertisement

Related posts

Ram mandir nirman festival : महाराष्ट्र सरकार ने 22 जनवरी को सार्वजनिक अवकाश घोषित किया

Deepak dubey

BJP vs SHIVSENA: आपके घर मे क्या चल रहा है वह देखे , संजय राउत ने अमित शाह पर कसा तंज 

Deepak dubey

BMC has only 8000 dosas left: प्रिकॉशन डोस’ को न करें नजरंदाज भुगतना पड़ सकता है गंभीर परिणाम!

Deepak dubey

Leave a Comment