Joindia
कल्याणक्राइमठाणेमुंबई

ठाणे में निर्भया कांड, पहले किए सामूहिक बलात्कार, फिर प्राइवेट पार्ट में डाल दिए बेलन, पीड़िता के पति को भी वीडियो कॉल पर दिखाया दृश्य, मनपा कर्मचारी बनकर पहुंचे थे घर, 12 दिन बाद भी आरोपी पुलिस की पहुंच से दूर

Advertisement

ठाणे। दिल्ली में हुए निर्भया गैंगरेप(Nirbhaya gang rape in delhi)और मर्डर की घटना शायद ही कभी कोई भुला पाएगा। इस घटना को हुए साढ़े ग्यारह साल हो चुके हैं। इसके बाद भी देश में आज तक कुछ नहीं बदला है। सभी का यही मानना है कि देश में आज भी महिलाएं और बेटियां सुरक्षित नहीं है। इसी तरह का मिलता-जुलता निर्भया कांड असंवैधानिक मुख्यमंत्री के ठाणे में सामने आया है। ठाणे के विटावा में रहनेवाली 35 वर्षीय महिला के घर पर पहुंचे दो फर्जी मनपा कर्मचारी समेत चार लोगों ने पहले उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। उसके बाद महिला के प्राइवेट पार्ट में बेलन डाल दिया। इतना ही नहीं इस कृत्य में शामिल उसके पति को आरोपियों ने बाकायदा वीडियो कॉल करते हुए घटना का दृश्य भी दिखाया। दूसरी तरफ बताया गया है कि इनमें से एक आरोपी को बचाने की कोशिश की जा रही हैा। यही कारण है कि वारदात को बीते 12 दिन गुजरने के बाद भी आरोपी पुलिस के पहुंच से दूर हैं।

Advertisement

मिली जानकारी के अनुसार ठाणे के विटावा में रहने वाली 35 वर्षीय महिला अपने 12 साल के बेटे के साथ रहती है। इसके साथ ही वह पास ही सौंदर्य प्रसाधन का दुकान भी है। महिला ने साल 2019 में बलात्कारी उमेश शिंदे से फ्लैट खरीदी था। हालांकि उस समय उमेश ने फ्लैट का टैक्स और लाइट बिल बाद में ट्रांसफर करने का वादा किया था। हालांकि छह साल गुजर जाने के बाद भी वह टालमटोल करते रहा और आज तक टैक्स और लाइट बिल महिला के नाम पर नहीं किया। इस बीच 30 मई को दोपहर डेढ़ बजे उमेश तीन लोगों को घर पर ले आया और कहा कि उनमें से दो को मनपा कर्मी बताते हुए फ्लैट का माप लेंने की बात कही। इसके बाद तीनों कमरे में आ गए और उन्होंने महिला से चाय बनाने के लिए बोले। इसके बाद महिला किचन में चाय बनाने के लिए गई। इस बीच किचन में पहुंचा एक व्यक्ति महिला के दोनों हाथ पकड़ लिए और उमेश ने पुड़ी में बंधा पावडर उसके मुंह में डाल दिया। इसके बाद एक ने जेब से सफेद रंग का कपड़ा महिला के मुंह में ठूंस दिया, ताकि वह चिल्ला न सके। इस बीच पावडर के कारण महिला को चक्कर आने लगा। इसी बीच उन्होंने महिला के हाथ बांधकर चारों ने बारी-बारी से बलात्कार किया। इसके बाद इस खेल में शामिल महिला के पति को तीनों ने वीडियो कॉल करके पूरा दृश्य दिखाया।

पति के कहने पर बलात्कारियों ने निजी अंग में डाल दिए बेलन

मूल रूप से राजस्थान के जयपुर निवासी महिला ने बताया कि बलात्कार करने के बाद उन्होंने मेरे पति को वीडियो कॉल किया। इस बीच उसने एक बलात्कारी उमेश से कहा कि इससे इसे कोई फर्क नहीं पड़ेगा। इसे प्राइवेट पार्ट में बेलन डाल दो। उसके इतना कहते ही एक ने मेरे गुप्तांग और मल द्वार में बेलन डाल दिया। इससे भी जब पति को रहा नहीं गया तो उसने कहा कि इसके गले से मंगलसूत्र खींचकर इसे मार डालो। इसके बाद मेरे पास रखे 10 हजार नकद और पांच तोले का मंगलसूत्र तीनों ने निकाल लिए। इसके बाद मुझे उसी अवस्था में छोड़कर चारों भाग निकले। बताया गया है उमेश शिंदे आपराधिक प्रवृत्ति का व्यक्ति है। उसका क्षेत्र में दहशत है।

तीन दिनों तक थी बेहोश

इस बीच महिला की सहेली जब उसके घर पहुंची तो उसे इस अवस्था में देख सन्न रह गई। उसने बिना देर किए पीड़िता को कलवा स्थित छत्रपति शिवाजी अस्पताल में भर्ती कराया। उसकी चिंताजनक स्थिति को देखते हुए चिकित्सकों ने महिला को आईसीयू में भर्ती कर दिया। इस बीच वह करीब तीन दिनों तक बेहोशी की हालात में रही। इसके बाद जब उसे होश आया तो उसने पुलिस को अपना बयान दिया। फिलहाल पीड़िता इस घटना से डरी-सहमी हुई है।

गृह मंत्री से मदद की गुहार

इस बीच सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई महिला ने गृहमंत्री से मदद की गुहार लगाई है। उसने दिए अपने ज्ञापन में कहा है कि इस घटना ने मेरे जीवन को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया है, जबकि बलात्कारी वारदात को अंजाम देने के बावजूद खुलेआम समाज में घुम रहे हैं। उन्हें पुलिस अभी तक गिरफ्तार नहीं कर सकी है। महिला ने आरोप लगाया कि स्थानीय पुलिस प्रशासन भी आरोपियों की मदद कर रही है। हालांकि स्थानीय पुलिस ने न केवल मेरे साथ अन्यायपूर्ण व्यवहार कर रही है, बल्कि मुझे ही परेशान कर रही है। वारदात के समय मेरा बेटा मौके पर नहीं था, फिर भी नादान बच्चे से पुलिस जबरन पूछताछ कर रही है। साथ ही भय का माहौल पैदा कर रही है। इस मामले में लीपापोती करनेवाले वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से पूछताछ जरूरी है।

Advertisement

Related posts

रियल एस्टेट क्रांति: मुंबई और नवी मुंबई पर मुंबई ट्रांस हार्बर लिंक का प्रभाव

Deepak dubey

MUMBAI: मानखुर्द में 16 साल के लड़के की हत्या, 4 आरोपी गिरफ्तार, शौचालय में मिला था शव

Deepak dubey

महाराष्ट्र के निजी अस्पताल के बेड की मिलेगी जानकारी

vinu

Leave a Comment