Joindia
देश-दुनियामुंबईराजनीति

Mahadev jankar: RSP chief का बयान “”भाजपा है फंसाने वाली पार्टी”!

Advertisement

पिछले सात महीने महाराष्ट्र में सत्ता संघर्ष शुरू है। भाजपा (BJP) के इशारे पर शिवसेना से गद्दारी करके शिंदे ने सत्ता स्थापित की। सत्ता स्थापित करने के बाद शिवसेना का नाम और चुनाव चिन्ह भी चुनाव आयोग द्वारा दिए जाने के बाद भाजपा के सहयोगी दल में भी हड़कंप मच गया है। राष्ट्रीय समाज पार्टी (RSP) के अध्यक्ष महादेव जानकर  Mahadev Jankar) ने कहा कि कांग्रेस(congress) और भाजपा दोनों फंसाने वाली पार्टी है। उन्होंने आगे कहा कि हम कठपुतली नहीं, पार्टी के मालिक हैं। जैसे बड़ी मछली छोटी मछली को खा जाती है वैसे ही हम भी भाजपा द्वारा खाए जा रहे हैं। इसलिए हमें सावधान रहना होगा।कांग्रेस के साथ गई पार्टियों का हाल देखिए।अब कांग्रेस भाजपा बन गई है। ऐसे शब्दों में महादेव जानकर ने भाजपा पर हमला किया। शिवसेना पार्टी के बारे में बोलते हुए जानकर ने कहा कि एकाध मंडल बनाना आसान है। लेकिन, पार्टी बनाना बहुत मुश्किल है। पार्टी बनाने वालों के दिल को क्या वेदना होती है, वे वही जानते हैं। जो बच्चे को जन्म नहीं देते, उन्हें बच्चे के जन्म के समय की पीड़ा के बारे में बात नहीं करनी चाहिए।

Advertisement

Modi govt. 2.0 budget: चुनाव पर नजर, बजट पर दिखा असर, जानिए क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा
2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव के बारे में बोलते हुए जानकर ने कहा कि हम चुनाव के उद्देश्य से 90 हजार मतदान केंद्र तैयार कर रहे हैं। 40 से 42 फीसदी काम पूरा हो चुका है। हम महाराष्ट्र की सभी 48 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं। परभणी, बारामती, माढा, मिर्जापुर इन चार निर्वाचन क्षेत्रों पर फोकस किया गया है। महादेव जानकर का मानना ​​है कि इन चार में से दो सीटों पर जीत पक्की है।

MUMBAI : फ्रांसीसी और भारतीय नौसेना ने दिखाया अपने युद्ध कौशल का जलवा

Advertisement

Related posts

Bhumi Pednekar recognized as Young Global Leader: क्लाइमेट वॉरिअर भूमि पेडनेकर को वर्ल्ड इकॉनॉमिक फोरम द्वारा यंग ग्लोबल लीडर के रूप में मान्यता दी गई!

Deepak dubey

BMC headquarters No Rent Nor any Electricity Usage Recovered: कोई किराया नहीं, कोई बिजली बिल नहीं वसूला गया!, मनपा मुख्यालय में राजनीतिक दल पर प्रशासन मेहरबान रहा

Deepak dubey

स्वर्गीया श्रीमती शारदा पांडेय की स्मृति में एक अविस्मरणीय साहित्यिक संध्या का आयोजन

dinu

Leave a Comment