Joindia
राजनीतिकल्याणठाणेनवीमुंबईमुंबईसिटी

नवी मुंबई मनपा शिक्षण मंडल के खिलाफ शिक्षकों का आंदोलन

Advertisement
Advertisement

रबाले स्थित शारदा विद्यालय और तुर्भे स्थित नवजीवन स्कूल में फर्जी शिक्षक कार्यरत होने का खुलासा होने के बावजूद मनपा शिक्षण मंडल द्वारा उनका बचाव किया जा रहा है। इसके सोमवार (Monday) को शिक्षण सेव समिति के माध्यम से शिक्षको ने आंदोलन करते हुए आयुक्त को ज्ञापन सौंपा ।इस दौरान आयुक्त राजेश नार्वेकर ने इस मामले में उपायुक्त स्तर के अधिकारी से जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

नवजीवन स्कुल के शिक्षक सुनील सिंह ने स्कूल के फर्जी शिक्षक दयाशंकर यादव के फर्जी डिग्री को लेकर राज्य के शिक्षण मंडल और मुख्यमंत्री से शिकायत की है। इस संदर्भ में शिकायत कर कार्रवाई की मांग करते हुए बताया है कि दयाशंकर यादव जिस स्कूल से शिक्षा ग्रहण किया है वह यूनिवर्सिटी ही यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (यूजीसी ) से अवैध घोषित किया गया है। इस संदर्भ में पूर्व प्रधानाचार्य ने यूजीसी और शिक्षण विभाग से इस डिग्री की जांच करने के लिए लेटर दिया था।

इसके साथ ही दयाशंकर यादव से भी उसके कागजात मांगे थे। लेकिन उसके तरफ से अभी तक किसी भी तरह का कागजात उपलब्ध नहीं कराया गया है। इस संदर्भ में यूजीसी के तरफ से स्कूल को अगस्त 2011 को भेजे गए पत्र में बताया गया है दयाशंकर यादव जिस वाराणसी संस्कृत यूनिवर्सिटी से डिग्री हासिल की है वह यूनिवर्सिटी इस फर्जी है। उसे किसी भी तरह से मान्यता नहीं मिला हुआ है। इस से साफ़ होता है की यह डिग्री फर्जी है।

संस्था ने भी किया गुमराह
शिक्षक सुनील सिंह द्वारा किये गए शिकायत के जवाब में यूनिवर्सल संस्था के अध्यक्ष के तरफ से जवाब देकर बताया गया है कि इस डिग्री को राज्य सरकार के तरफ से वैध घोषित किया गया है। लेकिन अभी तक वैध किये जाने का पत्र उपलब्ध नहीं कराया गया है। इस मामले में शिक्षक सुनील सिंह ने आयुक्त और राज्य सरकार को वापस पत्र लिखकर इसकी जांच करने की मांग की है।

इस बीच शिक्षण मंडल द्वारा रबाले स्थित शारदा विद्यालय के एक शिक्षक की नियुक्ति रद्द कर दी। रद्द करते समय बताया गया है कि डिग्री वाराणसी संस्कृत यूनिवर्सिटी का है जो फर्जी है ।इस की जनवरी आयुक्त को देते हुए अवगत कराया गया ।इस पर आयुक्त राजेश नार्वेकर ने कार्रवाई का आश्वासन दिया ।जिसके बाद शिक्षको ने आज का आंदोलन स्थगित कर दिया ।शिक्षको ने बताया कि कार्रवाई नही किया गया तो आगे आंदोलन बड़ा होगा ।इसके लिए मनपा शिक्षण मंडल जिम्मेदार होगा

Advertisement

Related posts

जेएनपीए ने महाराष्ट्र सरकार को ८१४ हेक्टेयर मैंग्रोव क्षेत्र सौंपा; यह पर्यावरण संरक्षण के प्रति जेएनपीए की प्रतिबद्धता को दर्शाता है

Deepak dubey

shiv sena: महाराष्ट्र में लोकतंत्र…संविधान कोल्हू में पेर कर बारात चली ‘घाना’ – संजय राऊत

Deepak dubey

ललित होटल को बम से उड़ाने की धमकी, दो आरोपी गुजरात से गिरफ्तार

Deepak dubey

Leave a Comment