Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईबिजनेसमुंबईसिटी

50,000 Indians join SME Tide with V-KYC enabled digital experience: वी-केवाईसी सक्षम डिजिटल अनुभव के साथ एसएमई टाइड से जुड़े 50 हजार भारतीय, दिसंबर 2024 तक 10 लाख एसएमई को शामिल करने का लक्ष्य

Advertisement

मुंबई । दिसंबर 2022 में भारत में प्रवेश के बाद से लेकर अब तक ब्रिटेन(Britain)का प्रमुख एसएमई-केंद्रित बिज़नेस फाइनेंशियल प्लेटफॉर्म, टाइड 50,000 एसएमई को शामिल कर चुका है। भारत में अपनी बाजार रणनीति की स्वीकृति के दृष्टिकोण के साथ, टाइड ने अपने प्लेटफॉर्म पर सभी सदस्य एसएमई (ग्राहकों) को एक वीडियो नो योर कस्टमर (वी-केवाईसी) की पेशकश के बाद रुपे (RuPay) कार्ड्स जारी किए हैं। भारतीय रिज़र्व बैंक के अनिवार्य कंप्लायंस न सिर्फ अनधिकृत यूज़र्स को, बल्कि गैर-इरादतन लोगों को भी प्लेटफॉर्म को एक्सेस करने और इसका लाभ लेने से रोकेंगे। यह प्रक्रिया औपचारिक अर्थव्यवस्था में एसएमई को शामिल करने का समर्थन करती है, डिजिटल इंडिया पहलों को सुदृढ़ करती है, और कम सेवा वाले क्षेत्रों के लिए क्रेडिट एक्सेस को बढ़ावा देती है। टाइड ने अपने मेंबर्स के लिए 50,000 फुली केवाईसी रुपे कार्ड्स भी जारी किए हैं।

Advertisement

टाइड के इस प्लेटफॉर्म को भारत में तेजी से स्वीकृति मिल रही है। ऐसे में, भारत में बाजार की क्षमता को देखते हुए कंपनी को विश्वास है कि वर्ष 2024 के अंत तक 10 लाख एसएमई इसके प्लेटफॉर्म से जुड़ेंगे और इसके डिजिटल बिज़नेस बैंकिंग सूट का लाभ ले सकेंगे। लॉन्च के बाद से लेकर मार्च तक, टाइड गूगल प्ले स्टोर पर 2.25 लाख ऐप डाउनलोड्स का आँकड़ा पार कर चुका है।
भारत में कंपनी के वर्तमान मेंबर्स की विशाल संख्या से स्पष्ट होता है कि जेन जेड और मिलेनियल्स, 40 से कम आयु वर्ग के 90% सदस्यों के साथ एक मजबूत उद्यमशीलता का प्रदर्शन करते हैं।
महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, बिहार और राजस्थान में टाइड की बिज़नेस बैंकिंग सर्विसेस को अपनाने का चलन तेजी से बढ़ा है। प्लेटफॉर्म छोटी निजी दुकानों, छोटे रेस्तरां और सोलोप्रेन्योर्स, जैसे- एक्टर्स, बेकर्स, ब्यूटीशियंस, डॉक्टर्स, फिजियोथेरेपिस्ट्स, टीचर्स, बिज़नेस कोचेस, इंश्योरेंस ब्रोकर्स, एकाउंटिंग और टैक्स प्रोफेशनल्स के लिए कार्यरत है।
गुरजोधपाल सिंह, सीईओ, टाइड (इंडिया), ने कहा, “टाइड का मानना ​​है कि एक फाइनेंशियल प्लेटफॉर्म को सुदृढ़ और फुर्तीला होना चाहिए, तब ही सफलता अपेक्षित है। इस यात्रा के दौरान कंप्लायंस के दृष्टिकोण को प्रखर रखते हुए, हम अपने लक्ष्य के अनुरूप वर्ष 2024 के अंत तक 10 लाख एसएमई को शामिल करने के मार्ग पर हैं। टाइड चेहरे की पहचान, ऑटोमेटेड डेटा एक्सट्रैक्शन और मशीन लर्निंग टेक्निक्स से जुड़ी पूर्ण-केवाईसी प्रक्रिया के बाद ही छोटे बिज़नेस ऑनर्स को शामिल करता है। इसका यह रीयल-टाइम दृष्टिकोण सुनिश्चित करता है कि हम भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) द्वारा स्थापित समस्त दिशानिर्देशों और आवश्यकताओं का अनुपालन करते हैं।”
टाइड ने ‘वी आर लिसनिंग’ नामक एक नया टू-वे कम्युनिकेशन कैंपेन भी लॉन्च किया है, जो मेंबर्स को अपनी राय रखने, चिंताओं को व्यक्त करने, प्रतिक्रिया साझा करने और उचित समय पर ब्रांड निर्णयों को प्रेरित करने का अवसर प्रदान करेगा।
वे आगे कहते हैं, “भारत में टाइड के विस्तार को देखते हुए, हम अपने प्रोडक्ट्स की पेशकश को जारी रखेंगे, ताकि सभी आंत्रप्रेन्योर्स अपने वित्त को निर्बाध रूप से प्रबंधित कर सकें, और यह सब हमारे मेंबर्स की सक्रिय भागीदारी के साथ ही संभव है। #मेम्बरफर्स्ट (#memberfirst) टाइड के प्रमुख उद्देश्यों में से एक है। इसके साथ ही ‘वी आर लिसनिंग’ कैंपेन टाइड के मौजूदा और नए मेंबर्स का स्वागत करता है कि वे आगे आएँ और ऐप में सुधार का सुझाव दें। हम प्लेटफॉर्म को समृद्ध बनाने के लिए मौजूदा और नए मेंबर्स के सुझावों को शामिल करेंगे और उनके लिए सुदृढ़ प्रोडक्ट्स की पेशकश करना जारी रखेंगे।”
यूके में 9% एसएमई बाजार हिस्सेदारी के साथ, टाइड का लक्ष्य भारतीय एसएमई इकोसिस्टम के तहत टियर 1, 2 और 3 शहरों में अपनी उपस्थिति का विस्तार करना है। एक बैंक के साथ साझेदारी के तहत आगामी महीनों में यह फिनटेक, व्यापार बचत / चालू खाता, भुगतान के लिए क्यूआर कोड, बैंक ट्रांसफर्स, चालान, जीएसटी, लिंक द्वारा भुगतान और क्रेडिट सर्विसेस सहित अनुरूप प्रोडक्ट्स की श्रृंखला लॉन्च करने के लिए प्रतिबद्ध है।

MUMBAI : फ्रांसीसी और भारतीय नौसेना ने दिखाया अपने युद्ध कौशल का जलवा

Advertisement

Related posts

लालबाग के राजा के मंडप में फ्रीस्टाइल मारपीट ; कार्यकर्ता ओर गणेश भक्तों के बीच लड़ाई

Deepak dubey

लूडो खेल मे दोस्त का किया गेम, हत्या के बाद खुद लगाई फांसी

Deepak dubey

मुंबई में कुत्ते से क्रूरता ! , मुंह पर फोड़ी सुतली बम , आरोपी के तलाश में जुटी पुलिस

Deepak dubey

Leave a Comment