Joindia
कल्याणठाणेदिल्लीदेश-दुनियामुंबईसिटी

‘Operation Kaveri’ amid smoldering Sudan: चार दिन तक भूखे प्यासे रहे, अब वतन लौटकर लग रहा है कि दूसरी जिंदगी मिली, जलगांव के मोहम्मद कैफ की जुबानी, सुलगते सूडान के बीच ‘ऑपरेशन कावेरी’ 

Advertisement

मुंबई। सूडान(Sudan)में सेना और अर्धसैनिक बलों  (military and paramilitary forces) के बीच जारी संघर्ष में भारत सहित दुनियाभर के कई देश अपने नागरिकों को सुरक्षित बाहर निकालने में जुटे हैं। (Operation Kaveri’) भारतीयों को सूडान से बाहर निकालने ने भारत सरकार ने ऑपरेशन कावेरी शुरू किया है। इसके तहत बुधवार को 360 भारतीयों के बाद गुरुवार को 246 भारतीय स्वदेश पहुंचे हैं।

Advertisement

सूडान में बीते 12 दिनों से सेना और अर्धसैनिक बलों के बीच जंग जारी है। ऐसे में बड़े पैमाने पर हिंसा हो रही है।इस बीच भारत सरकार ऑपरेशन कावेरी के तहत संकग्रस्त सूडान से भारतीयों को सुरक्षित बाहर निकालने में जुटे हैं। बुधवार को 360 भारतीयों के पहले जत्थे के दिल्ली पहुंचने के बाद 246 भारतीयों के साथ भारतीय वायुसेना का एक और विमान गुरुवार को मुंबई पहुंचा।

ऑपरेशन कावेरी के अंतर्गत सूडान से मुंबई पहुंचे नागरिक

ऑपरेशन कावेरी के तहत सूडान से  लोगों को भारत के मुंबई एयरपोर्ट पर लाया गया। कई दिनों से दहशत की जिंदगी जीने के बाद अपना देश भारत वापस लौटना इन लोगों के लिए दूसरी जिंदगी मिलने के जैसा है। भारत सरकार को यह लोग धन्यवाद करते नहीं थक रहे थे।

मुंबई लौटे जलगांव के मोहम्मद कैफ ने बताया कि पिछले कई दिनों से सूडान शहर में गृहयुद्ध चल रहा है, जिससे वहां पर तबाही का माहौल है। कैफ सहित सूडान से लौटे अन्य लोगों  ने भी वहां के हालात को बयां करते हुए बताया कि हालत वहां पर बहुत नाजुक है। कई दिनों तक लाइट और पानी के बिना यह लोग अपने घरों में बंद रहे। खाने को कुछ भी नहीं था। व्हाट्सएप ग्रुप के द्वारा एक दूसरे से चैटिंग करते हुए यह लोग एकत्रित हुए और फिर  इंडियन एंबेसीज की सहायता से सही सलामत आज भारत वापस लौटे।

सुदान की बिगड़ी व्यवस्था-  वहाँ की हालत बहुत खराब हैंअभी भी कई भारतीय है मौजूद 

सूडान से लौटे लोगों ने बताया कि पिछले 10  से 12 दिन से सूडान जंग चल रही है। सुडान में दो सैनिकों के गुट आपस मे ही लड़ रहे हैं जिस कारण घरों पर, रास्तों पर बमबारी भी की जारी है. बंदूक की नोक पर लोगों डराया जा रहा है. स्कूली बच्चों को परीक्षा नही देने दिया गया। एक हफ़्ते से ज्यादा हो गया वहाँ पर दुकाने बंद हैं , राशन दुकान बंद हैं, ट्रांसपोर्ट बंद हैं,  दुकाने भी जला दी जा रही है । ऐसे में सुडान में रहने वाले  भारतीयों को  तुरंत सुरक्षित निकालने में भारत सरकार जुट गई है। यहां के भारतीय नागरिकों को एयर लिफ्ट कर मुंबई लाया गया । इन नागरिकों का कहना हैं कि अभी भी वहाँ काफी लोग फँसे हुए हैं। सभी एक दूसरे के संपर्क में हैं और वह भी जल्द भारत पहुँच जायेंगे।

प्रेम, सौंदर्य, प्रकृति और जीवन के विभिन्न विषयों पर अविस्मरणीय कविता संग्रह है आत्मशारदा

Advertisement

Related posts

मलिक की गिरफ्तारी पर फडणवीस: पूर्व CM ने कहा-नवाब मलिक का पैसे सीधे दाऊद इब्राहिम तक पहुंचा, तीन धमाकों में हुआ इन पैसों का इस्तेमाल

cradmin

महाराष्ट्र में फोन टैपिंग का मामला: IPS रश्मि शुक्ला को बॉम्बे हाईकोर्ट से बड़ी राहत, 25 मार्च तक गिरफ्तारी पर लगी रोक

cradmin

Child trafficking: बच्चे की बीमारी ने खोला बाल तस्करी गिरोह का राज, 4 महिला सहित 8 लोगों पर केस दर्ज, रायगढ़ पुलिस को किया ट्रांसफर

Deepak dubey

Leave a Comment