Joindia
कल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबईराजनीतिसिटी

Millions spent on advertising: शिंदे सरकार सिर्फ 2 महीने में विज्ञापन पर 53 करोड़ खर्च

Advertisement

मुंबई। राज्य में शिंदे फडणवीस की सरकार(Shinde Fadnavis government

Advertisement
)आने के बाद विज्ञापन और प्रचार के लिए करोड़ों रुपए की फिजूलखर्ची शुरू है। पिछले खेप में विज्ञापन पर 42 करोड़ रुपये खर्च किया गया था। अब प्रशासन अपने योजना के तहत विज्ञापन पर समाचार पत्र, टीवी चैनल, रेडियो, सोशल मीडिया और आउटडोर के माध्यम से 2 महीने में 52 करोड़ 90 लाख रुपए की फिजूलखर्ची करेगी है। (Millions spent on advertising)यह खुलासा हुआ है।

शासन अपने प्लानिंग के अंतर्गत समाचार पत्रों पर लगभग 10 करोड रुपए का विज्ञापन, मराठी टीवी चैनल पर 3.30 करोड़ एफएम चैनल पर एक करोड़ 83 लाख, लोकल रेडियो 50 लाख, एसटी बस पर एक करोड़ 13 लाख 75 हजार, रोड शो के लिए दो करोड़, निजी होर्डिंग्स दो करोड़, बेस्ट बस पर दो करोड़, हवाई अड्डों पर एक करोड, स्टीकर्स पर डेढ़ करोड, उसी प्रकार छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस, पुणे स्टेशन, पर करोड़ों रुपये खर्च किये जायेंगे।

इससे पहले 42 करोड़ रुपये की फिजूलखर्ची

यह सरकार में आने के साथ ही पहले 7 महीनों में विज्ञापन पर 42 करोड़ रुपए खर्च किए। इस संदर्भ में सूचना अधिकार के तहत जानकारी सामने आई है। उस दौरान साफ तौर पर प्रतिदिन 19 लाख 74 हजार रुपये सरकार ने विज्ञापन पर खर्च किए थे।

करोड़ों का नास्ता व खाना

यह भी सामने आया था कि मुख्यमंत्री के निवास स्थान वर्षा बंगले पर प्रत्येक वर्ष 3.5 करोड़ों रुपए खान-पान पर खर्च किया जाएगा। वर्षा पर चाय पानी, मिशल, वड़ा, चिकन मटन, बिरयानी, सुखा मेवा, ताजे फल, स्वीट डिश आदि उपलब्ध कराने के लिए सुख सागर हॉस्पिटैलिटी को 1 वर्ष के लिए 3.5 करोड़ रुपए का ठेका दिया गया है।

Advertisement

Related posts

Tigress cubs in SGNP: बाघिन ने चार शावकों को दिया जन्म

Neha Singh

CNG और PNG की बढ़ी कीमतें, महंगाई ने निकाले आंसू

dinu

Turbhe Flyover: फ्लाईओवर के काम में देरी?, वर्क ऑर्डर की अवधि समाप्त होने के करीब है, काम अभी तक नहीं हुआ शुरू

Deepak dubey

Leave a Comment