Joindia
क्राइमकल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईमुंबईसिटी

NAVI MUMBAI: पीड़ित की शिकायत दर्ज करने के बजाय थाने में मारपीट , पुलिस अधिकारी के खिलाफ शिकायत दर्ज

Advertisement
Advertisement

नवी मुंबई। एक व्यक्ति के साथ मारपीट कर थाने में रात भर बिठाए रखने का मामला सामने आया है । इस मामले में कलंबोली पुलिस स्टेशन में कार्यरत सहायक पुलिस निरीक्षक दिनेश पाटिल के खिलाफ पुलिस ने शिकायत दर्ज कर जांच शुरू कर दी है ।

जानकारी अनुसार एक अस्पताल में कार्यरत शिकायकर्ता विकास उजगरे 6 जनवरी को अपना काम खत्म कर कुछ दोस्तों के साथ पार्टी करने गए थे। इसके बाद सुधागढ़ कॉलेज के पास स्थित दत्तकृपा चाइनीज होटल में खाना खाने के दौरान उनके दोस्त तुषार यादव और वेटर के बीच ऑर्डर को लेकर कहासुनी हो गई। लेकिन विकास ने समझा बुझाकर उस विवाद को वही खतम कर आगे बढ़ने नहीं दिया। कुछ देर बाद वे सभी वंहा से निकल गए लेकिन जब यादव को याद आया कि वह बैग होटल में ही छोड़ दिया है तो विवाद न हो इसके लिए विकास उसे लेने गया। लेकिन जैसे ही वह होटल पहुंचे वंहा के कर्मचारियों ने उनकी पिटाई कर दी। लेकिन उस वक्त विकास ने खुद को बचाकर बाहर निकले और कंट्रोल रूम मे फोन कर मदद मांगी। जिसके बाद वंहा पुलिस की टीम आकर कलंबोली पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराने को कहा। जिसके बाद पुलिस के कहे अनुसार विकास पैदल ही कलंबोली पुलिस स्टेशन पहुंचे। लेकिन इससे पहले होटल मालिक नीलेश भगत और एक कर्मी पुलिस स्टेशन पहुंचा हुआ था।इस दौरान होटल पर हुई पिटाई के कारण विकास के पेट मे दर्द हो रहा रहा। जिसके कारण उन्होंने मौजूद सहायक पुलिस निरीक्षक दिनेश पाटिल से अस्पताल जाने की गुहार लगाई, लेकिन उन्होंने न तो विकास की शिकायत लिखी और न ही अस्पताल ले गए। उल्टा विकास को बेल्ट से पीटा और जातिसूचक शब्दों का उपयोग कर उसके शरीर पर थूकने के साथ गाली-गलौज किया।

डीसीपी का रिश्तेदार पत्ता चलाने पर अस्पताल में कराया भर्ती

कुछ समय बाद विकास के परिचित एक पुलिसकर्मी ने बताया कि विकास पुलिस उपायुक्त विनायक ढाकने का रिश्तेदार है तब दिनेश पाटिल का व्यवहार पूरी तरह बदल गया। इसके बाद पाटिल ने विकास को पास बुलाकर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया। इसके बाद अगले दिन वहां देखने भी आया। उस वक्त जानकारी मिली थी कि विकास के खिलाफ ही केस दर्ज किया गया है। लेकिन तीन दिन के इलाज के बाद विकास के अस्पताल से बाहर आने के बाद दिनेश पाटिल के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

Advertisement

Related posts

सावधान खतरा कायम है! मुंबई में आया एक्सई

Dhiru

Watch on CM Office: मुख्यमंत्री कार्यालय पर केंद्र की नजर

Neha Singh

शिवसेना को दस शिवसेना करना चाहती है भाजपा!

vinu

Leave a Comment