Joindia
सिटीकल्याणठाणेनवीमुंबईमुंबई

MUMBAI: सरकारी सहित निजी अस्पतालों में बूस्टर डोज नहीं , निजी अस्पतालों में 990 रुपए का बूस्टर डोज

Advertisement
Advertisement

मुंबई। कोरोना के नए वैरिएंट की वजह से कोरोना और भी खतरनाक हो गया हैं। एक बार फिर कोरोना से आम जनता को बचाने के लिए प्रशासन सतर्कता का इशारा कर रहा है। इसी के तहत कोरोना टीकाकरण पर जो दिया जा रहा हैं। इसी बीच ठाणे में एक चौकानेवाली बात सामने है कि सरकारी सहित निजी असप्तालों में बूस्टर डोज ही नही हैं। ऐसे में आम जनता प्रशासन से सवाल कर रही हैं कि बूस्टर डोज कहाँ है। वहीं निजी अस्पतालों में इस बूस्टर डोज की कीमत कुल 990 रुपए हैं। वहीं प्रशासन के अनुसार बूस्टर डोज की खुराक में कम से कम 2 हफ्ते का समय लग सकता है।

बता दें कि कोरोना संक्रमित मामले पुनः बढ़ सकते है इसी लिए प्रशासन ने टीकाकरण पर जोर देने का निर्णय लिया था लेकिन ठाणे मनपा सहित पूरे ठाणे जिले में बूस्टर डोज ही उपलब्ध नहीं हैं। मिली जानकारी अनुसार ठाणे जिले में ठाणे जिले में अब तक सभी आयु वर्ग के 70 लाख 99 हजार 58 नागरिकों ने कोरोना की पहली खुराक ली है। यह कुल जनसंख्या का 85.37 प्रतिशत है।वहीं अब तक कोरोना का दूसरा डोज लेनेवालों की संख्या 63 लाख 50 हजार 042 है। कोरोना की दूसरी खुराक लेनेवालों का आंकड़ा 76.36 प्रतिशत है। वहीं अब तक बूस्टर डोज लेनेवालों का आंकड़ा आठ लाख 53 हजार 128 है। कुल जनसंख्या के 13.53 प्रतिशत लोगों ने बूस्टर डोज लिया है।एक ओर कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या को रोकने के लिए प्रशासन प्रयास करने की कोशिश कर रहा है लेकिन कोरोना वैक्सीन की खुराक न होने के कारण जनवरी से टीकाकरण बंद कर दिया गया है। ऐसे में जनता की सरकार को फिक्र नहीं ऐसा खुद जनता कह रही है।

Advertisement

Related posts

मुंबई एयरपोर्ट पर पत्नी के सामने पति की मौत ,व्हीलचेयर की कमी बनी मौत का कारण

Deepak dubey

गणपति बप्पा के आगमन से पहले… उद्धव ठाकरे का सूचक बयान

Deepak dubey

School bus fees hike: स्कूल बसों के किराए में बढ़ोतरी

Neha Singh

Leave a Comment