Joindia
Uncategorized

Gateway of india damaged: गेटवे ऑफ इंडिया के दीवारों में आई दरक, आर्कियोलॉजी विभाग ने जताई चिंता 

Advertisement

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई की शान ऐतिहासिक गेटवे ऑफ इंडिया ( Gateway of india damaged) की स्थिति इन दिनों जर्जर हो गई है। मरम्मत और देखभाल (maintenance) में अनदेखी के चलते ग्रेड 1 के इस हैरिटेज ( heritage) की हालत बद से बत्तर होते जा रही है। 99 वर्ष पुरानी हो चुकी इस हेरिटेज स्मारक में अब दरक पड़ने लगी है। दीवारों में घास फूस के साथ काई जमा हो गई है। महाराष्ट्र के आर्कियोलॉजिकल डिपार्टमेंट ने एक सर्वे रिपोर्ट में यह जानकारी सामने आई है। आर्कियोलॉजिकल डिपार्टमेंट ने चिंता व्यक्त करते हुए सरकार को तुरन्त मरम्मत का सुझाव दिया है।

Advertisement

गेटवे ऑफ इंडिया के हालात को लेकर हुए निरीक्षण में पुरातत्व विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, गेटवे ऑफ इंडिया की नींव और दीवारों में दरारें आ रही हैं। इसके आलावा इमारत में समंदर के लहरों से प्रवेश किया हुआ बाद में वाष्पीकरण के जरिए निकल जाता है,पर दरारों और किनारों में नमक रुका रह जाता है। राज्य पुरातत्व विभाग ने इस मॉन्यूमेंट्स के मरम्मत और जर्जर हुऐ हालत के सुधार के लिए प्रदेश सरकार से आग्रह किया है।

सर्वे कर रहे लोगों के अनुसार इमारत की मौजूदा हालात को सुधार करने में एक साल का समय लगेगा। जिसके लिए सरकार को तरफ़ से जल्द अनुमति और फंड की आवश्यकता है। उनके अनुसार यह काम मॉनसून के पहले शुरु होना चहिए। इस इमारत की मरम्मत का कुल खर्च 6.9 करोड़ का आएगा।

Unoin budget में मुंबई व महाराष्ट्र के हाथ खाली धोखा, मुंबईकरों में दिखी नाराजगी

MUMBAI : फ्रांसीसी और भारतीय नौसेना ने दिखाया अपने युद्ध कौशल का जलवा

Modi govt. 2.0 budget: चुनाव पर नजर, बजट पर दिखा असर, जानिए क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा

 

Advertisement

Related posts

देश की सुरक्षा परियोजनाओं की जानकारी पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों को देने का आरोप; डॉ प्रदीप कुरुलकर की जमानत अर्जी खारिज

Deepak dubey

pericardial effusion: OMG मरीज के हृदय से निकाला गया 400 मिलीलीटर कोलेस्ट्रॉल

dinu

दो छात्रों की प्रेम कहानी… लड़की के इनकार करने पर लड़के ने उठाया ये खौफनाक कदम

Deepak dubey

Leave a Comment