Joindia
देश-दुनियामुंबईसिटी

वसई विरार शहर के समुद्री किनारे आने वाले सैलानियों को भी यह कुत्ते अपना शिकार बना रहे हैं

कई देशों की सीमाएं लांघकर वसई विरार शहर में विदेशी पक्षियों का आगमन जारी है। लेकिन इन दिनों अठखेलियां करने आने वाले दुर्लभ प्रजाति के पक्षियों का शिकार शहर के आवारा कुत्ते कर रहे हैं। इतना ही नहीं वसई विरार शहर के समुद्री किनारे आने वाले सैलानियों को भी यह कुत्ते अपना शिकार बना रहे हैं। इनका आतंक सबसे ज्यादा विरार पश्चिम के अर्नाला बीच पर देखने मिल रहा है। इनके आतंक को देखते हुए अर्नाला ग्राम पंचायत ने वसई विरार महानगर पालिका से इसकी शिकायत की है।
पुलिस महानिदेशक कार्यालय में तैनात पुलिस कांस्टेबल और समुंद्र सफाई समिति के प्रमुख निनाद पाटील अर्नाला गांव के निवासी है। उन्होंने बताया कि वसई विरार क्षेत्र में 50 हजार से अधिक आवारा कुत्ते हैं। आवारा कुत्तों के काटने के कारण गांव के लोग बाहर निकलने से भी घबराते है। पाटील के मुताबिक चालू वर्ष में अर्नाला में करीब 200 निवासियों और पर्यटकों को आवारा कुत्तों ने काट शिकार बनाया है।अर्नाला गांव में रहनेवाले 10 वर्षीय किशोर को आवारा कुत्तों ने दो बार अपना शिकार बनाया है। किशोर अक्सर खेलने के लिए समुद्र तट पर आया करता था। नितिन पाटील ने बताया कि ठंड का मौसम शुरू हो गया है।
एक वर्ष में 15 हजार लोगो को बनाया शिकार
वसई विरार महानगर पालिका के आंकड़ों के मुताबिक इस वर्ष जनवरी से नवंबर तक आवारा कुत्तों ने 15,747 लोगों को शिकार बनाया है।जबकि वर्ष 2021 में 18 हजार लोगो को को कुत्तों ने काटा था। अरनाला के सरकारी चिकित्सा अधिकारी, रुग्वेद दुधत ने बताया कि वे हर दिन कम से कम छह लोगों का इलाज करते हैं।जिन्हें कुत्तों ने काटा है।“समुद्र तटों पर  कुत्तों की नसबंदी कराने वाली टीम होनी चाहिए। ताकि स्थानीय लोग इससे संक्रमित न हों।फिलहाल यहां के लोग कुत्तों के आतंक से डर डर के जीवन जी रहे हैं।

Related posts

दुबई के रास्ते भारत में हेरोइन का आयात 

Deepak dubey

भारत जोड़ो यात्रा’ में जा रहे कांग्रेस नेता नसीम खान हादसे में घायल घायल होने के बावजूद लेंगे रैली में भाग

Deepak dubey

कैट ने थाईलैंड के लॉट्स द्वारा मेट्रो कैश एंड कैरी ख़रीद सौदे को रोकने की मांग की

Deepak dubey

Leave a Comment