Joindia
राजनीतिदेश-दुनियामुंबईसिटी

फुले, अंबेडकर ने भीख मांग कर स्कूल चलाया, मंत्री चंद्रकांत पाटील का विवादित बयान

Advertisement
Advertisement

भाजपा ने महाराष्ट्र के महापुरुषों का अपमान करने का अफजलखानी बीड़ा उठाया है। जहां संत महंत के विचार सिखाए जाते हैं, उस पैठण में संतपीठ पर उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री चंद्रकांत पाटील ने कर्मवीर भाउराव पाटील, भारत रत्न डॉक्टर बाबासाहेब आंबेडकर, महात्मा ज्योतिबा फुले ऐसे महान पुरुषों का घोर अपमान किया है। इतना ही नहीं अपने वक्तव्य की को भरपूर समर्थन करते हुए चंद्रकांत पाटील ने कहा कि माधुकरी मतलब एक प्रकार की भीक ही है ना, गजब की बुद्धि का परिचय देते हुए वारकरियों को भी भिखारियों की कतार में खड़ा कर दिया।

कर्मवीर भाउराव पाटील, डॉक्टर बाबासाहेब आंबेडकर व महात्मा ज्योतिराव फुले ने भीख मांग कर स्कूल चलाया उन्होंने सरकार से अनुदान नहीं मांगा तो तुम क्यों सरकारी अनुदान मांगते हो।

Advertisement

Related posts

घनसोली में गैंगवार,एक की मौत,दो घायल

Deepak dubey

Maharashtra farmer suicide: दम तोड़ते अन्नदाता, शिंदे सरकार के कार्यकाल में लाचार हुए किसान, 6 महीनों में 1450 किसानों ने की आत्महत्या!

dinu

DRDO: कुरुलकर ने महिला जासूस को ब्रह्मोस मिसाइल दिखाने का किया था वादा, एटीएस की जांच में चौंकाने वाला खुलासा

Deepak dubey

Leave a Comment