Joindia
Uncategorized

कांग्रेस ने किया ‘शर्म करो मोदी, शर्म करो’ आंदोलन

Advertisement
Advertisement

40 जवानों के बलि पर क्यों चुप हो मोदी!
नाना पटोले
पुलवामा विस्फोट पर स्थिति करो स्पष्

मुंबई:- जम्मू-कश्मीर के तत्कालीन राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने पुलवामा घटना पर जो सवाल उठाए हैं, उस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अभी तक अपना पक्ष नहीं रखा है। इतने बड़े और बेहद गंभीर सवाल पर देश के प्रधानमंत्री का चुप रहना ठीक नहीं है, इसलिए कांग्रेस पार्टी ने ‘शर्म करो मोदी, शर्म करो’ आंदोलन के जरिए इसका जवाब मांगा है। महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले ने चेतावनी दी कि नरेंद्र मोदी पुलवामा मुद्दे पर अपनी स्थिति स्पष्ट करें अन्यथा आंदोलन और तेज किया जाएगा ।

पुलवामा ब्लास्ट मामले में सत्यपाल मलिक द्वारा उठाए गए सवालों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से स्पष्टीकरण की मांग को लेकर महाराष्ट्र कांग्रेस की ओर से सोमवार को राज्यव्यापी आंदोलन किया गया। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले के नेतृत्व में पुणे में विरोध प्रदर्शन किया गया। इस मौके पर मीडिया से बात करते हुए पटोले ने कहा कि पुलवामा ब्लास्ट में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए, लेकिन मामले की जांच अभी तक पूरी नहीं हुई है। सबसे बड़ा सवाल यह है कि इस धमाके में 300 किलो आरडीएक्स का इस्तेमाल किया गया था। आखिर इतनी भारी मात्रा में विस्फोटक कहां से आया। इस सवाल का भी जवाब अभी तक नहीं मिला है। प्रधानमंत्री मोदी ने इस घटना को 2019 के लोकसभा चुनाव में भुनाया था । यह आरोप तत्कालीन राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने लगाया है। मलिक के मुताबिक यह घटना सरकार की गलती की वजह से हुई, लेकिन उन्हें इस मामले पर चुप रहने की हिदायत क्यों दी गई। नरेंद्र मोदी को इन तमाम सवालों का जवाब देना चाहिए, लेकिन सत्तावादी भाजपा सरकार जवाब देने से बच रही है। पटोले ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी लोगों के मन में कई सवाल पैदा कर रही है। उन्होंने कहा कि देश की रक्षा के लिए 40 जवानों का बलिदान व्यर्थ न जाए, इसलिए कांग्रेस पार्टी सड़कों पर उतर कर भाजपा और मोदी से इन सवालों का जवाब मांग रही है।
पटोले ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बात का भी हिसाब देना होगा कि उन्होंने आम लोगों के पसीने की कमाई को उद्योगपति अदानी की कंपनी में निवेश करने की अनुमति क्यों दी। ‘शर्म करो मोदी, शर्म करो’ नामक यह आंदोलन पुणे, नागपुर, अमरावती, छत्रपति संभाजी नगर, लातूर, धुले सहित प्रदेश के सभी जिलों में किया गया।

Advertisement

Related posts

राज्य कार्यकारणी के बैठक में बीजेपी कार्यकर्ताओं में भरी हुंकार,

Deepak dubey

शिंदे मौत का आकडा बताने से किए टाल मटोल

Neha Singh

दबंग खान को सता रहा जान को खतरा

Deepak dubey

Leave a Comment