Joindia
आध्यात्मइवेंटकल्याणकाव्य-कथाक्राइमठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईफिल्मी दुनियामुंबईराजनीतिरोचकसिटी

हलाल जिहाद के माध्यम से बहुसंख्यक समाज की धार्मिक भावनाओं को आहत किया जा रहा है! – अधिवक्ता विष्णु शंकर जैन, सर्वोच्च न्यायालय

Advertisement
Advertisement

 

*दिल्ली में हिन्दू जनजागृति समिति द्वारा प्रकाशित ‘हलाल जिहाद’ पुस्तक का विमोचन !*

दिल्ली। यहाँ के इण्डिया इंटरनेशनल सेंटर में हलाल जिहाद पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम में प्रसिद्ध अधिवक्ता विष्णु शंकर जैन बोल रहे थे। उन्होंने आगे कहा, हलाल प्रमाणित पदार्थों के सेवन और उपयोग के माध्यम से हम पर हलाल अर्थव्यवस्था को थोपा जा रहा है। इससे हलाल प्रमाण पत्र के माध्यम से बहुसंख्यक समाज की धार्मिक भावनाओं को आहत किया जा रहा है। इस पुस्तक के माध्यम से इस प्रकार के अनेक पदार्थों की जानकारी, हलाल अर्थव्यवस्था के माध्यम से हिन्दू समाज और भारतीय अर्थव्यवस्था पर होने वाले विपरीत परिणामों की जानकारी भी समाज को मिलेगी।

हिन्दू जनजागृति समिति के कार्य को दो दशक पूर्ण होने के उपलक्ष्य में समिति के कार्य को विविध विषयों में मिली सफलताओ के विषय में समिति के पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड समन्वयक, श्रीराम लुकतुके ने बताई। इस पुस्तक का विमोचन अधिवक्ता विष्णु शंकर जैन, रमेश शिंदे, कपिल मिश्र एवं सुरेश चव्हाण के कर कमलों से हुआ।

हिंदू जनजागृति के राष्ट्रीय प्रवक्ता रमेश शिंदे ने कहा कि हलाल प्रमाणपत्र के माध्यम से जो पैसा एकत्रित किया जा रहा है , उसका उपयोग कहां किया जा रहा है, ये भी आज जांच का विषय है। हलाल प्रमाण पत्र देनेवाले संगठन जमीयत उलेमा ए हिंद के संगठन के कार्यकर्ताओं द्वारा देश के गृह मंत्री को धमकी दी जाती है. मध्य प्रदेश में इस्कॉन ने जब मिड डे मील बच्चों को विद्यालयों में देने के लिए कहा, तो इस्लाम मानने वालों ने इसका बहिष्कार करते हुए कहा, हम ये भोजन नहीं ग्रहण करेंगे, क्योंकि ये भगवान् जगन्नाथ जी को अर्पण करके बांटा जाता है। तो हम पर हलाल प्रमाणित खाद्य पदार्थ और अन्य सामान क्यों थोपा जा रहा है ?

भारत सरकार के मांस निर्यात करने वाले संगठन में हलाल मांस ही निर्यात किया जा सकता है, ये दिशा निर्देश दिए गए थे। भारत सरकार से इस विषय में पत्र व्यवहार करने पर उन्होंने इसका संज्ञान लेते हुए अब ये रोका है।
हलाल खाना ये इस्लाम में लिखा होगा, परन्तु हलाल बेचना ये नहीं लिखा है। अतः हम हलाल खरीदें इस पर तो कोई हमें बाध्य नहीं कर सकता है। संगठित होकर हम सभी इसका विरोध करेंगे तो निश्चित ही हलाल अर्थव्यस्था को बढ़ने से रोका जा सकता है।हिन्दू ईकोसिस्टम के संस्थापक कपिल मिश्रा ने कहा कि जबरदस्ती हमारी जेब से हलाल अर्थव्यवस्था के माध्यम से हमारे पैसे निकाल कर एक पैरेलल अर्थव्यवस्था का निर्माण किया जा रहा है। हरेक हिन्दू का ये मूलभूत अधिकार है कि अपने विरुद्ध एक पैरेलल अर्थव्यवस्था को रोका जाए। बहुसंख्यक समाज को आर्थिक तौर पर समाप्त किया जाए, इसका षड़यंत्र इस माध्यम से चल रहा है। सामान खरीदने से पहले उस पर कौन सा प्रमाण पत्र है, ये देखकर खरीदना चाहिए, ये आवाहन कपिल ने किया। सुदर्शन न्यूज़ के प्रधान सम्पादक, सुरेश चव्हाण के कहा कि आज हिन्दू समाज पर विविध प्रकार के संकट छाए हैं, जिनमें से एक है – हलाल जिहाद। आज सभी हिन्दुओं को संगठित होकर हम पर थोपे जा रहे हलाल प्रमाण पत्र का विरोध करने के साथ ही हिन्दू राष्ट्र के निर्माण हेतु, हिन्दू राष्ट्र की मांग को भी निरंतर करने की आवश्यकता है। इस लोकार्पण समारोह में दिल्ली के उद्योगपति डॉ विवेक अग्रवाल , पत्रकार संदीप देव , इतिहासकार डॉ रिंकू वढेरा , बालाजी ग्रुप ऑफ़ कॉलेज के निदेशक जगदीश चौधरी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन समिति के पंजाब और हरियाणा के समन्वयक, कार्तिक सालुंके ने किया।

Advertisement

Related posts

NAVI MUMBAI : आईटीएमएस सिस्टम से हादसों पर लगेगा लगाम

Deepak dubey

मर्डर मिस्ट्री सीरीज-10: कहानी उस हाईप्रोफाइल कत्ल की जिसमें प्रेमिका ने पुराने प्रेमी के साथ मिलकर नए प्रेमी के 300 टुकड़े कर दिए

cradmin

महाराष्ट्र में ट्रांसफर पोस्टिंग घोटाला: फडणवीस को पूछताछ के लिए मुंबई पुलिस ने बुलाया, पूर्व सीएम ने कहा-मैं दूंगा उनके हर सवाल का जवाब

cradmin

Leave a Comment