Joindia
आध्यात्मकल्याणकाव्य-कथाकोलकत्ताक्राइमखेलठाणेदिल्लीदेश-दुनियानवीमुंबईपालघरफिल्मी दुनियाबंगलुरूमीरा भायंदरमुंबईराजनीतिरोचकसिटीहेल्थ शिक्षा

संजय राउत का मायावती और ओवैसी पर तंज: शिवसेना सांसद ने कहा-दोनों ने भाजपा की जीत में की मदद, दोनों को मिलना चाहिए भारत रत्न और पद्म भूषण

Advertisement

[ad_1]

मुंबईएक घंटा पहले

कॉपी लिंकशिवसेना सांसद संजय राउत मुंबई में पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। - Dainik Bhaskar

शिवसेना सांसद संजय राउत मुंबई में पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे।

चार राज्यों में भाजपा को मिली जीत पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने बसपा प्रमुख मायावती और AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी पर निशाना साधा है। शिवसेना प्रवक्ता ने शुक्रवार को दोनों पर तंज कसते हुए कहा,’भाजपा ने बड़ी जीत हासिल की है, लेकिन उसे कामयाबी को पचाना सीखना चाहिए। यह भाजपा का राज्य था, अब भी है, लेकिन अखिलेश की सीटें तीन गुना बढ़ी हैं। सपा 42 से 125 पर पहुंची है। मायावती व ओवैसी ने भाजपा की जीत में योगदान दिया, इसलिए उन्हें ‘पद्म भूषण’ व ‘भारत रत्न’ देना चाहिए।

राउत को पंजाब में पूरी तरह ठुकराया गयाशिवसेना नेता ने कहा कि पांच राज्यों के चुनाव में से भाजपा ने चार में जीत हासिल की, इससे हमें दुख हो, ऐसा कोई कारण नहीं है। हम उनकी खुशी में शामिल हैं। राउत ने इसके साथ ही सवाल खड़ा किया कि उत्तराखंड के सीएम क्यों हारे? गोवा में दो डिप्टी सीएम क्यों हारे? सबसे ज्यादा चिंता की बात पंजाब है, भाजपा जैसी राष्ट्रवादी पार्टी पंजाब में पूरी तरह ठुकरा दी गई।

पंजाब में भाजपा की हार यूपी की जीत से बड़ीराउत ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री, गृह मंत्री, रक्षा मंत्री सभी ने पंजाब में जबर्दस्त प्रचार किया था, तो फिर पंजाब में क्यों हारे? शिवसेना नेता ने कहा कि यूपी, उत्तराखंड व गोवा पहले से भाजपा के थे, यह सही है, लेकिन भाजपा यूपी में कांग्रेस व शिवसेना की हार की तुलना में पंजाब में भाजपा की हार ज्यादा बड़ी है।

नोट की कमी थी, इसलिए हमें नोटा से कम वोट मिलेयह पूछने पर कि गोवा, उत्तर प्रदेश व मणिपुर चुनाव में शिवसेना के नगण्य प्रदर्शन पर शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी को ‘नोटा’ से भी कम वोट इसलिए मिले क्योंकि उसके पास ‘नोट’ कम थे। उन्होंने कहा कि भाजपा को अपनी सफलता को पचाना सीखना चाहिए। कुछ ही लोग सफलता को पचा पाते हैं। विफलता को तो पचाना आसान है, लेकिन सफलता को पचाना मुश्किल है। उसकी जीत अच्छे चुनाव प्रबंधन के कारण हुई।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Advertisement

Related posts

मुंबई में 26/11 जैसे हमले की धमकी मामले में आया दोहा और पाकिस्तान का कनेक्शन, यूपी के 4 लोगों से भी पूछताछ

Deepak dubey

Hanuman Chalisa: राणा दंपति की मुसीबतें बढ़ी, अवैध निर्माण पर मनपा ने चिपकाया नोटिस,

dinu

Five children drowned at Juhu Chowpatty:जुहू चौपाटी पर डूबे पांच बच्चे ,एक को बचाया ,चार की तलाश जारी 

Deepak dubey

Leave a Comment