Joindia
इवेंटकल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईपालघरफिल्मी दुनियाबंगलुरूमीरा भायंदरमुंबईराजनीतिरोचकसिटीहेल्थ शिक्षा

मोबाइल पर लगातार चल रहा अंगूठा, बन रहा मर्ज का कारण

बीमारी बढऩे पर ऑपरेशन तक की नौबत आ सकती है

खंडवा। कोरोना लॉक डाउन के कई साइड इफेक्ट देखने को मिल रहे हैं। लॉक डाउन में समय पास करने का जरिया बना मोबाइल अब मर्ज का कारण बन रहा है। प्रतिदिन मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 5 से 6 मरीज अंगूठे और कलाई के दर्द को लेकर पहुंच रहे है। डॉक्टर्स के अनुसार मोबाइल पर ज्यादा देर तक अंगूठा चलाने से ये बीमारी बढ़ रही है। समय रहते इस पर काबू नहीं पाने से अंगूठे की सर्जरी करने तक की नौबत भी आ सकती है। शासकीय मेडिकल कॉलेज के हड्डी रोग विभाग के डॉ. विशाल आहके के अनुसार ये बीमारी कॉर्पेल टनल सिंड्रोम और डी क्वेरवाइन सिंड्रोम है। कॉर्पेल टनल सिंड्रोम में अंगूठे की हड्डी व मांसपेशियों में धीरे-धीरे दर्द बढ़ने लगता है। इसका कारण लगातार मोबाइल पर अंगूठे को चलाने से मांसपेशियों में जकड़न आने लगती है। वहीं डी क्वेरवाइन सिंड्रोम में कलाई का जोड़ दर्द करने लगता है। इसका कारण हाथ में मोबाइल को देर तक पकड़े रहने से इसके वजन के चलते नसें चोक होने लगती हैं। इन दोनों बीमारियों में शुरुआती लक्षण में अंगूठे का धीमा दर्दए हाथों में झुनझुनी होनाए जकडऩ आना होता है। दर्द धीरे.धीरे बढऩे लगता है और हाथ सुन्न होने लगता है।

ऑपरेशन तक पहुंच सकती है बात
डॉ. आहके का कहना है कि कॉर्पेल टनल सिंड्रोम में लक्षण के अनुसार दवा से इलाज किया जाता है। फिर फिजियोथैरेपी का सहारा लिया जाता है। इसके बाद स्ट्रायड के इंजेक्शन देने तक नौबत पहुंच सकती है। इन सबसे भी मरीज को राहत नहीं मिलती है तो ऑपरेशन तक करना पड़ सकता है। इस बीमारी से बचाव का बेहतर उपाय मोबाइल का उपयोग का समय कम किया जाना चाहिए।

देश में 44 करोड़ स्मार्ट फोन यूजर्स
दूनिया में स्मार्ट फोन यूज करने में भारत का दूसरा स्थान है। देश में 44 करोड़ लोग स्मार्ट फोन का उपयोग करते है। बिजनेस कंपनी के कार्यों के साथ ही स्मार्ट फोन का सबसे ज्यादा यूज सोशल मीडिया, गेम में किया जाता है। चाहे फेसबुक हो, वॉटसएप, गेम हो, हर एप्लीकेशन के लिए सबसे ज्यादा उपयोग अंगूठे का ही होता है।

Related posts

12 भाजपा नेताओं के खिलाफ निकला गिरफ्तारी वारंट , विनोद मिश्र,संजय उपाध्याय,निरंजन शेट्टी सहित कई नेताओं का समावेश

Deepak dubey

Public relations campaign of Modi @ 9: मोदी @9 के महाजनसंपर्क अभियान, मावल लोकसभा क्षेत्र में महाजनसंपर्क अभियान

Deepak dubey

karnatak politics: पैसे का इस्तेमाल कर सरकार बनाने वालो को अलग रख दें- sharad pawar

Deepak dubey

Leave a Comment