Joindia
देश-दुनियाकल्याणठाणेनवीमुंबईमीरा भायंदरमुंबईसिटी

गोरेगांव में तेंदुए के हमले से डेढ़ वर्षीय बच्ची की मौत, अलर्ट हुआ फारेस्ट विभाग

Advertisement
Advertisement

मुंबई । एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। पश्चिमी उपनगर गोरेगांव में आरे कॉलोनी के जंगली इलाके में सोमवार को तेंदुए ने डेढ़ साल की बच्ची पर हमला कर उसकी हत्या कर दी। आरे पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि यह घटना आरे की इकाई संख्या 15 में सुबह करीब साढ़े छह बजे हुई। बच्ची को लेकर उसकी मां घर से 30 फुट दूरी पर बने मंदिर जा रही थी। तेंदुआ उनका पीछा कर रहा था लेकिन इसकी जानकारी उन्हें नहीं थी।

हमले के बाद बच्ची गंभीर रूप से घायल हो गई। उसे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया। अधिकारी ने कहा कि प्राथमिक सूचना के आधार पर, हमने मामले में एक आकस्मिक मृत्यु रिपोर्ट (एडीआर) दर्ज की है, आगे की जांच जारी है।

वन विभाग ने शुरू की जांच

इधर वन विभाग ने क्षेत्र में मानव-वन्यजीव संघर्ष को रोकने के लिए एक कार्य योजना शुरू की है। उन्होंने बताया कि वन विभाग ने रेस्किंक एसोसिएशन फॉर वाइल्डलाइफ वेलफेयर (रॉ) की एक टीम को मदद के लिए बुलाया है।

तैनात किए गए वॉलनटिअर्स
अधिकारी ने कहा कि अधिकारियों ने एक वन्यजीव एम्बुलेंस, मुंबई वन विभाग से वन्यजीव संकट प्रतिक्रिया टीमों और क्षेत्र में स्वयंसेवकों को तैनात किया है।

उन्होंने कहा कि बचावकर्मी, तेंदुआ विशेषज्ञ, पशु चिकित्सक और वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी इस पूरे सप्ताह आरे में चौबीसों घंटे तैनात रहेंगे।

वन विभाग के अधिकारी ने कहा कि रात में गश्त की जाएगी और बड़ी बिल्ली की गतिविधियों की पहचान और निगरानी के लिए कैमरा ट्रैप लगाए जाएंगे।
संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान के पास स्थित, आरे को मुंबई का ग्रीन लंग्स माना जाता है। अतीत में तेंदुओं के कई हमले देखे जा चुके हैं।

Advertisement

Related posts

Mumbai police: मुंबई का पहला विशेष पुलिस कमिश्नर बने देवेन भारती, गृहमंत्री ने बनाई नई पोस्ट

dinu

Airport Extortion racket: एयरपोर्ट पर वसूली मामले में नवी मुंबई में तलाशी, जेएनपीटी के दो एजेंटो के घरों पर CBI के छापे, मिली सिक्रेट डायरी

Deepak dubey

150 साल पुराना कर्नाक ब्रिज होगा धाराशायी, ट्रेन को लगेगा 27 घंटे का ब्रेक

vinu

Leave a Comment