Joindia
क्राइमकल्याणठाणेदेश-दुनियानवीमुंबईफिल्मी दुनियामुंबईराजनीतिरोचकसिटी

मायानगरी मुंबई में रोजाना 4 लोग कर रहे आत्महत्या ,युवाओं की संख्या अधिक

Advertisement

 

मुंबई।नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा जारी डेटा के अनुसार आर्थिक राजधानी मुंबई में प्रतिदिन चार लोग आत्महत्या कर रहे है ।जिसमे युवाओं की संख्या अधिक है आत्महत्या के मामले में बीते दो वर्षो में 17 फीसदी तक बढ़ गए हैं। जानकारों की माने तो रोज 80 मामले आते हैं जिसमें कोई न कोई अपनी जान लेने की कोशिश करता है। मुंबई में कई लोग काम के लिए बाहर से आते हैं इस वजह से कई लोग तनाव और अकेलेपन से गुजरते हैं। जनकारो की माने तो डिप्रेशन से गुजरने वाले ज्यादातर युवा होते हैं। कई मरीज साइबर बुलिंग के कारण परेशान रहते हैं। ऐसे लोगों से बात करनी चाहिए।एक कॉलेज में शिक्षक ने बताया कि नौजवाओं मे अपनी इमेज को लेकर बहुत चिंता रहती है। साथ ही सहपाठियों का दबाव, मानसिक तनाव,और दोस्तों से मतभेद के कारण कई युवा खुदकुशी के बारे में सोचते हैं। युवाओं को अपने मन में आने वाली नकारात्मक विचारों पर सचेत हो जाना चाहिए।और अपनों से बात करते रहनी चाहिए।

एमसीआरबी द्वारा जारी डेटा

 

राष्‍ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्‍यूरो (एनसीआरबी) की रिसर्च के मुताबिक 2021 में कुल 1 लाख 64 हजार 33 आत्महत्या की घटनाएं पुलिस रिकॉर्ड में दर्ज की गई हैं।

जब की साल 2017 में यह संख्या 1 लाख 29 हजार 887 (9.9 %) थी जो कि साल 2021 में बढ़कर 1,64,033 ( 12.0%) हो गई।

 

महाराष्ट्र में सर्वाधिक आत्महत्या

 

एनसीआरबी के अनुसार देश में सबसे ज्यादा 22 हजार 207 लोगों ने सिर्फ महाराष्ट्र में आत्महत्या की।

दूसरे नंबर पर तमिलनाडु है, जहां 14 हजार 966 लोगों ने आत्महत्या की।

जब की पश्चिम बंगाल में 13 हजार 56 लोगों ने अपनी ही जान ली।

Advertisement

Related posts

Hostels in Marine Drive murder case: मरीन ड्राइव हॉस्टल में बलात्कार-हत्या मामला, एक तरफा प्यार मे घटना को दिया अंजाम

Deepak dubey

Tomato prices fall by Rs 14 in APMC:एपीएमसी में टमाटर की कीमतों मे 14 रुपए की गिरावट

Deepak dubey

मुंबईकरों के लिए पानी की किल्लत हुई दूर, लबा लब भरे डैम

Deepak dubey

Leave a Comment